नेपाल दौरे पर पहुंचे चीनी अधिकारियों का दावा, 'बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव' हुआ लागू

नेपाल ने कहा है कि चीन के बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (बीआरआई) को लागू नहीं किया गया है, लेकिन चीनी पक्ष का दावा है कि इसे लागू कर दिया गया है।
नेपाल दौरे पर पहुंचे चीनी अधिकारियों का दावा, 'बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव' हुआ लागू

काठमांडू, हि.स.। नेपाल ने कहा है कि चीन के बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (बीआरआई) को लागू नहीं किया गया है, लेकिन चीनी पक्ष का दावा है कि इसे लागू कर दिया गया है। नेपाल दौरे पर आए चीनी अधिकारियों के एक दल ने कहा कि बीआरआई के जरिए नेपाल-चीन संबंध नए दौर में प्रवेश कर रहे हैं। चीनी अंतरराष्ट्रीय विभाग के काउंसलर तू शाओलिन ने कहा कि बीआरआई के जरिये नेपाल और चीन के बीच संबंध एक नए दौर में है। गुरुवार को भक्तपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने बीआरआई की प्रभावशीलता पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि चीन नेपाल के राजनीतिक दलों के साथ सहयोग बढ़ाना चाहता है।

चीनी अधिकारी ने बताया लागू हुआ बीआरआई

नेपाल के विदेश मंत्री एनपी साऊद ने संसद में स्पष्ट किया कि बीआरआई अभी तक लागू नहीं हुआ है। हालांकि, नेपाल दौरे पर चीनी अधिकारी ये कहने से नहीं चूके कि बीआरआई लागू हो चुका है। नेपाल में चीन के राजदूत चेन सोंग ने कहा है कि बीआरआई लागू हो चुका है। वह बीआरआई के मुद्दे पर नेपाल से चीन जाने वाले अधिकारियों पर भी दबाव बनाते रहे हैं। चीन ने बीआरआई के 10 साल पूरे होने के मौके पर नेपाल में एक कार्यक्रम भी आयोजित किया है। इसके लिए चीन की एक टीम अंतरराष्ट्रीय विभाग के काउंसलर के साथ नेपाल का दौरा कर रही है। नेपाल ने स्पष्ट कर दिया है कि वह केवल बीआरआई अनुदान स्वीकार करेगा। हालांकि, चीन ने अनुदान देने से इनकार कर दिया है।

Related Stories

No stories found.