अमेरिकी राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार नैन्सी पेलोसी का दावा, हिलेरी से डरते थे पुतिन

नैन्सी ने दावा किया कि ये पुतिन का डर ही था कि उन्होंने 2016 चुनाव में अवैध तरीके से हिलेरी के खिलाफ अभियान चलवा कर माहौल बनाया। व्लादिमिर पुतिन द्वारा अमेरिका के लोकतंत्र में हस्तक्षेप किया गया।
अमेरिकी राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार नैन्सी पेलोसी का दावा, हिलेरी से डरते थे पुतिन

न्यूयॉर्क, एजेंसी। अमेरिका में राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार नैन्सी पेलोसी ने दावा किया है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन, अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन से डरते थे। न्यूयॉर्क के प्रसिद्ध कोलंबिया विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ इंटरनेशनल एंड पब्लिक अफेयर्स में विद्यार्थियों व विद्वतजनों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हिलेरी क्लिंटन से डरने के कारण ही पुतिन ने 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में हस्तक्षेप किया था।

व्लादिमिर पुतिन द्वारा अमेरिका के लोकतंत्र में हस्तक्षेप किया गया

नैन्सी ने दावा किया कि ये पुतिन का डर ही था कि उन्होंने 2016 चुनाव में अवैध तरीके से हिलेरी के खिलाफ अभियान चलवा कर माहौल बनाया। व्लादिमिर पुतिन द्वारा अमेरिका के लोकतंत्र में हस्तक्षेप किया गया। उन्होंने दावा किया 2016 के राष्ट्रपति चुनाव के दौरान अमेरिकी खुफिया एजेंसी ने यह पाया था कि व्लादिमीर पुतिन ने हिलेरी क्लिंटन की उम्मीदवारी को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से चुनाव में दखल देने का आदेश दिया था। इसके लिए रूस की तरफ से बड़े पैमाने पर अभियान चलाया गया था। इस अभियान में ईमेल और दस्तावेज प्राप्त करने के लिए डेमोक्रेटिक नेशनल कमेटी सर्वर में साइबर हमले और हैकिंग शामिल थी।

डोनाल्ड ट्रम्प ने 2016 में हिलेरी क्लिंटन को हराया था

हिलेरी क्लिंटन ने पहले पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के अधीन राज्य सचिव के रूप में कार्य किया था। उस दौरान हिलेरी क्लिंटन ने 2011 में व्लादिमीर पुतिन के दोबारा चुनाव की सार्वजनिक रूप से आलोचना की। डोनाल्ड ट्रम्प ने 2016 में हिलेरी क्लिंटन को हराया था। उन्होंने 2018 में रूस की ओर से चुनाव में किसी भी हस्तक्षेप से इनकार करते हुए कहा था कि उन्हें ऐसा करने के पीछे कोई कारण नहीं नजर आता।