9/11 Attack: अमेरिका के आतंकवादी हमले में हजारों लोगों ने गंवाई थी जान, इमारतों के मलबे में दबी खौफनाक याद

अमेरिका में आज के दिन आतंकवादियों ने खतरनाक हमला किया था। जिसमें हजारों लोगों ने अपनी जान गंवाई थी। उनको याद करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है।
अमेरिका में 9/11 हमले से दहल गई थी दुनिया
अमेरिका में 9/11 हमले से दहल गई थी दुनियाSocial Media

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क:अमेरिका में 9/11 का आतंकी हमला कोई भी नहीं भूल सकता। आतंकवादियों द्वारा किए गए हमले में हजारों लोगों ने जान गंवाई थी। वहीं इस हमले को याद कर रुह कांप जाती है। अमेरिका में आज के दिन 2001 में आतंकी हमले से पूरा देश दहल गया था। ये घटना सबसे खतरनाक आतंकवादी घटना मानी जाती है। इसमें बहुत लोगों ने जान गंवाई थी। वहीं इसके बाद से हर कोई दहशत में जी रहा था। इसको दुनिया के खूंखार आतंकवादियों में से एक ओसामा बिन लादेन ने प्लान किया था। कुछ समय बीतने के बाद अमेरिका ने ओसामा को ढूंढकर मार दिया था। वहीं इस आतंकी हमले की 22वी बरसी हैं। जिसको लेकर अमेरिका के राष्टपति जो बाइडेन अलास्का के लिए रवाना होंगे।

अमेरिका ही नहीं बल्कि दुनिया के इतिहास में ये घटना को भूलना मुश्किल होता है। ये हमला अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर में किया गया। सोमवार को बड़ी तादाद में स्मारकों, शहर के सभागारों के अलावा दूसरी जगह पर इकट्ठा होकर हमले में मारे जाने लोगों की याद में शोक मनाया। इस अवसर पर न्यूयॉर्क के विश्व व्यापार केंद्र, पेंटागन और पेन्सिलवेनिया के शैंक्सविले के अलावा अन्य जगह पर कई तरह का कार्यक्रम आयोजित किया गया।

हमले में 3000 लोगों की हुई थी मौत

इस हमले के बाद करीब 3000 लोगों की जान चली गई थी। वहीं इस घटना ने विदेश नीति से लेकर अमेरिका की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उजागर किया था। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन आज होने वाले कई सारे कार्यक्रम में शामिल होने वाले हैं।

इस हमले की बरसी पर अमेरिका के लोग अलग तरह से श्रद्धांजलि देते हैं। इसमें लोग चुप रहकर, मोमबत्ती लेकर, जुलूस निकालकर तथा अन्य गतिविधियों कर मृतकों को श्रद्धांजलि देते हैं।

सितंबर 11 को अवकाश का किया गया ऐलान

न्यू जर्सी की मोनमाउथ काउंटी द्वारा इस वर्ष से छुट्टी करने का ऐलान किया गया है। ताकि काउंटी के कार्यरत लोग अन्य तरह के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में हिस्सा ले पाए। वहीं 9/11 की बरसी के मौके पर कई अमेरिकी समाजसेवी कार्य में भी शामिल होते हैं।

बाइडन अमेरिका के पहले राष्ट्रपति हैं जो अलास्का तथा पश्चिम अमेरिका में किसी जगह में 9/11 के बरसी कार्यक्रम में उपस्थित होंगे। अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस न्यूयाॅर्क में कुछ विशेष कार्यक्रम में शामिल हो सकती है। जिसमें सितंबर 11 मेमोरियल और म्यूजियम प्लाजा’ में एक समारोह है। इसके अलावा कई कार्यक्रम की वजह से आज का दिन अमेरिका में व्यस्त रहता है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें- raftaar.in

Related Stories

No stories found.