union-minister-of-state-for-finance-anurag-thakur-appointed-as-captain-in-the-territorial-army
union-minister-of-state-for-finance-anurag-thakur-appointed-as-captain-in-the-territorial-army

केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ​​टेरिटोरियल आर्मी में ​बने कैप्टन

- अनुराग ठाकुर ने अपनी खुशी जाहिर करते हुए सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर किया नई दिल्ली, 10 मार्च (हि.स.)। केन्द्रीय वित्त एवं कॉर्पोरेट मामलों के राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर को प्रोन्नत करके टेरिटोरियल आर्मी में कैप्टन बनाया गया है। वह जुलाई, 2016 में लेफ्टिनेंट के तौर पर टेरिटोरियल आर्मी में शामिल हुए थे। अनुराग ठाकुर केन्द्रीय वित्त एवं कॉर्पोरेट मामलों के पहले ऐसे (वर्तमान सरकार में सांसद) राज्यमंत्री हैं जिन्हें रेगुलर कमिशंड ऑफिसर के तौर पर टेरिटोरियल आर्मी का कैप्टन बनाया गया है। अनुराग ठाकुर 2016 के जुलाई में लेफ्टिनेंट के तौर पर टेरिटोरियल आर्मी में शामिल हुए थे। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बुधवार को इस उपलब्धि के बारे में सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर किया है। उन्होंने बताया कि वह प्रादेशिक सेना से 2016 से जुड़े हुए हैं, अब उनका प्रमोशन हो गया है। अनुराग ठाकुर ने अपनी खुशी जाहिर करते हुए वीडियो शेयर किया है। इसके साथ उन्होंने लिखा, ‘जुलाई 2016 में मैं टेरिटोरियल आर्मी में रेगुलर ऑफिसर की तरह लेफ्टिनेंट के पद पर कमीशन हुआ था। आज मुझे बताते हुए गर्व हो रहा है कि मैं प्रमोट होकर कैप्टन बन गया हूं। भारत माता और तिरंगे के लिए मैं हर फर्ज निभाने को हमेशा तैयार हूं... जय हिंद।’ टेरिटोरियल आर्मी (टीए) भारतीय सेना का ही हिस्सा है। भारतीय सेना जरूरत पड़ने पर अपनी टेरिटोरियल आर्मी की यूनिट उपलब्ध कराती है। टेरिटोरियल आर्मी में 18 से 42 साल के उम्र के वह ग्रेजुएट नागरिक लेफ्टिनेंट के तौर पर शामिल हो सकते हैं जो शारीरिक और मानसिक तौर पर फिट हों। टेरिटोरियल आर्मी में शामिल होने की यह शर्त भी है कि आपके पास अपना कमाई का जरिया होना चाहिए क्योंकि यह वॉलंटियर सर्विस है, स्थायी नौकरी नहीं। क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी भी टेरिटोरियल आर्मी से जुड़े हुए हैं। जम्मू-कश्मीर और पंजाब में ऑपरेशन रक्षक, नॉर्थ ईस्ट में ऑपरेशन राइनो और ऑपरेशन बजरंग में टेरिटोरियल आर्मी की सक्रिय रूप से हिस्सेदारी थी। टेरिटोरियल आर्मी के जवान और अफसर वीरता पुरस्कार एवं सर्विस अवॉर्ड से भी सम्मानित किए गए हैं। हिन्दुस्थान समाचार/सुनीत

Related Stories

No stories found.