Indian Railways: ट्रेनों का सफर होगा और शानदार! इस बड़ी परेशानी से मिलेगा छुटकारा, जानिए रेलवे का प्लान

IRCTC: कुछ वर्षों में भारतीय रेलवे में कई महत्वपूर्ण सुधार दिखे हैं। ट्रेनों और स्टेशनों के विकास के साथ-साथ यात्रियों को बेहतर सेवा देने के लिए कई अहम कार्य किए गए हैं।
भारतीय रेल।
भारतीय रेल। @RailMinIndia एक्स सोशल मीडिया।

नई दिल्ली, रफ्तार। रेल यात्रियों के लिए बेहद अच्छी खबर है। उनका सफर अब और शानदार बनने वाला है। रेल यात्रा के दौरान यात्रियों को बदबूदार और गंदे शौचालय की समस्या से निजात मिलेगी। द इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट की मानें तो रेलवे बोर्ड IoT-आधारित तकनीक की टेस्टिंग जारी है। इस टेक्नोलॉजी के तहत ट्रेनें में कहीं से भी बदबू आ रहा होगा तो उस जगह का पता चल जाएगा। यह टेक्नोलॉजी बदबू सूंघने में सक्षम है। रेलवे का मानना है कि इस तकनीक से बदबू की समस्या का समाधान हो जाएगा।

ट्रायल में कुछ कोचों में होगा इस्तेमाल

ईटी की रिपोर्ट के मुताबिक इस प्रोजेक्ट के लिए मुंबई स्थित स्टार्टअप विलिसो टेक्नोलॉजीज ( (Viliso Technologies) को चुना गया है। इसके लिए टेस्टिंग की जा रही है। इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल शुरुआत में कुछ कोच में किया जाएगा। सफल ट्रायल के बाद बाकि ट्रेनों पर इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाएगा। रेलवे ने कहा कि इस तकनीक की मदद से हम बड़े पैमाने पर रेलवे को दुर्गंध से मुक्ति पा सकते हैं।

कैसे काम करेगा यह टेक्नोलॉजी?

टॉयलेट में आने वाली बदबू की पहचान के लिए सेंसर लगाया जाएगा। शौचालयों में स्मार्ट सिस्टम लगाए जाएंगे, जो गंध का पता लगाएगी। ये हवा में अस्थिर यौगिकों (compounds) और अणुओं (molecules) को अवशोषित करने में सक्षम है। फिर यह तकनीक डेटा को हब-टू-हब ट्रांसफर करेगी। उसके बाद सिस्टम इस डेटा का विश्लेषण कर कार्रवाई करेगी। उदाहरण के लिए कहीं बहुत बुरी गंध है तो यह तकनीक स्वच्छता कर्मियों को देगा। माना जा रहा कि आने वाले दिनों में रेलवे में कई पैमाने पर बड़े सुधार देखे जा सकते हैं। बता दें, रेलवे ने आगामी सरकार के 100 दिनों का अपना एक प्लानिंग कार्ड भी जारी किया है। इसके तहत कई नए इनोवेशन की बात कही गई है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.