the-new-agricultural-law-is-in-favor-of-the-farmers-not-the-opposition-parties-chief-minister-tamang
the-new-agricultural-law-is-in-favor-of-the-farmers-not-the-opposition-parties-chief-minister-tamang

विपक्षी दलों के नहीं, किसानों के पक्ष में है नया कृषि कानूनः मुख्यमंत्री तमांग

बिशाल गुरुंग गंगटोक, 08 फरवरी (हि.स.)। सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग ने केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि कानून का समर्थन किया है। उन्होंने कहा है कि हो सकता है यह नया कृषि कानून विपक्षी दलों के हित में नहीं हो, लेकिन यह कानून देश के किसानों के हित में है। मुख्यमंत्री तमांग सोमवार को राजधानी गंगटोक के पास नामचेबुंग निर्वाचन क्षेत्र स्थित असम लिंगजे में राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के केंद्र के भूमि पूजन और शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री तमांग ने कहा कि केंद्र सरकार किसानों के हित में बहुत अच्छा कानून लेकर आई है। इस नए कृषि कानून में किसानों को पूरी छूट दी गई है। कृषि कानून पर चल रहे विवाद की ओर इशारा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हो सकता है नया कृषि कानून विपक्षी दलों के हित में नहीं है, लेकिन निश्चित रूप से किसानों के हित में है। उन्होंने आत्मनिर्भर भारत के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान का भी समर्थन किया। चीन पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री तमांग ने कहा कि चीन कभी भी हमारे देश की भलाई के बारे में नहीं सोचता है, लेकिन हम चीन द्वारा उत्पादित सामग्री खरीदकर चीन की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भी सिक्किम को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में काम कर रही है। सरकार ने दूध उत्पादन में सिक्किम को आत्मनिर्भर बनाने का लक्ष्य रखा है। दूध उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य सरकार किसानों को प्रति लीटर दूध पर अतिरिक्त आठ रुपये पैसा दे रही है। सरकार की इस पहल के बाद पिछले तीन महीनों में दूध का उत्पादन काफी बढ़ गया है। उन्होंने जानकारी दी कि तीन महीने पहले राज्य प्रति माह 11 लाख लीटर दूध का उत्पादन कर रहा था, लेकिन अब प्रति माह 14 लाख लीटर दूध का उत्पादन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि दूध के अलावा, किसानों को अदरक, हल्दी, बड़ी इलाइची और फापर की खेती के लिए भी राज्य सरकार प्रोत्साहन दे रही है। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in

Related Stories

No stories found.