sanjay-raut-thanked-rahul-gandhi-for-his-support-said---central-agencies-are-behaving-like-slaves-of-a-party
sanjay-raut-thanked-rahul-gandhi-for-his-support-said---central-agencies-are-behaving-like-slaves-of-a-party

संजय राउत ने राहुल गांधी के समर्थन पर जताया शुक्रिया, बोले- एक पार्टी के गुलामों की तरह व्यवहार कर रही हैं केंद्रीय एजेंसियां

नई दिल्ली, 9 मार्च (आईएएनएस)। शिवसेना सांसद संजय राउत ने बुधवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मिले सहयोग के लिए उन्हें शुक्रिया अदा किया है। राउत ने राहुल गांधी का एक पत्र साझा कर इस पर अपनी प्रतिक्रिया में केंद्रीय एजेंसियां एक पार्टी के गुलामों की तरह व्यवहार कर रही हैं। शिवसेना सांसद संजय राउत ने बुधवार को राहुल गांधी का एक पत्र साझा किया, जिसमें उन्होंने राउत और उनके परिवार के खिलाफ ईडी के मामलों के बीच कांग्रेस पार्टी का समर्थन देने का वादा किया था। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ये पत्र 15 फरवरी को राउत को लिखा था जिसमें उन्होंने कहा, आपको और आपके परिवार को जिस तरह से केंद्रीय जांच एजेंसी टारगेट कर रही है, मैं उसकी निंदा करता हूं। उन्होंने सजंय राउत द्वारा 8 फरवरी को लिखे गए पत्र का जिक्र करते हुए कहा, आपने पत्र में जिस तरह से जांच एजेंसियों द्वारा उत्पीड़न और धमकी के उदाहरण दिए हैं वह मोदी सरकार की पोल खोल रही है। लगातार जांच एजेंसियों का दुरुपयोग लोकतंत्र के लिए खतरनाक है। ये सरकार विपक्ष को चुप कराना चाहती है। मैं आपको भरोसा देता हूं कि कांग्रेस पार्टी हमेशा आपके साथ मजबूती से खड़ी है। राहुल गांधी की ओर से लिखे गए इसी पत्र के जवाब में बुधवार को सांसद संजय राउत ने पत्र की फोटो साझा कर ट्वीट किया। राउत ने बुधवार को ट्वीट कर लिखा, शुक्रिया राहुल गांधी! लोकतांत्रिक मूल्यों और स्वतंत्रता की रक्षा के हमारे प्रयास में, हमें एक साथ लड़ना होगा। ये न केवल दुर्भाग्यपूर्ण है बल्कि खतरनाक भी है कि केंद्रीय एजेंसियां एक पार्टी के गुलामों की तरह व्यवहार कर रही हैं। पर मुझे यकीन है ये भी गुजर जाएगा। इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) द्वारा लगातार जांच में उनके परिवार पर शिकंजा कसे जाने के बाद संजय राउत ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के साथ-साथ राहुल गांधी, शरद पवार समेत कई नेताओं को पत्र लिखा था। सांसद संजय राउत ने केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाया था कि वह केवल महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में लोगों को टारगेट कर रही है। शिवसेना और तृणमूल कांग्रेस के नेताओं पर ही रेड पर होती हैं। केंद्र सरकार उन पर दबाव बनाने के लिए यह सब कर रही है ताकि सरकार गिराई जा सके। --आईएएनएस पीटीके/आरजेएस

Related Stories

No stories found.