politics-heats-up-on-tribals-in-madhya-pradesh
politics-heats-up-on-tribals-in-madhya-pradesh

मध्य प्रदेश में आदिवासियों पर गरमाई सियासत

भोपाल, 5 मई (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश में आदिवासी वर्ग को लेकर एक बार फिर सियासत गर्मा चली है, इसकी वजह दो दिन पहले देा आदिवासियों की गौमांस के शक में हुई हत्या बन रहा है। भाजपा जहां आदिवासियों के कल्याण की बात कर रही है तो वहीं कांग्रेस खुले तौर पर भाजपा के शासन काल में आदिवासियों पर अत्याचार का आरोप लगा रही है। ज्ञात हो कि राज्य के सिवनी जिले में दो दिन पहले गौ मांस के शक में दो आदिवासियों की पीट-पीटकर कर हत्या कर दी गई थी। उसके बाद से मामला सियासी रंग लेता जा रहा है। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने जनजातीय वर्ग पर बढ़ते अत्याचारों को लेकर तंज कसा है। उन्होंने कहा है शिवराज, आपकी सरकार आगामी चुनावों को देखते हुए, पिछले कुछ समय से जनजातीय वर्ग को लुभाने के लिये, इनके महापुरुषों के नाम पर करोड़ों रुपये खर्च कर भव्य आयोजन-इवेंट कर, खुद को इस वर्ग का सच्चा हितैषी बनाने में लगी हुई है, लेकिन बेहतर हो कि इन इवेंटो, आयोजनों की बजाय आप आज जनजातीय वर्ग को पर्याप्त सम्मान व सुरक्षा प्रदान करे। कमलनाथ ने आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कहा है, आपकी सरकार में यह वर्ग आज सबसे ज्यादा असुरक्षित है, इनके साथ प्रदेश में दमन व उत्पीड़न की घटनाएं रोज घट रही हैं। यह वर्ग आज दिखावे के आयोजन की बजाय, खुद की सुरक्षा की गुहार लगा रहा है। इसके पूर्व भी हमने प्रदेश के कई हिस्सों में इस वर्ग के साथ घटित दमन व प्रताड़ना की घटनाएं देखी हैं। कमलनाथ ने मुख्यमंत्री से सवाल किया है कि सिवनी की घटना के कुछ आरोपियों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है, ऐसी शिकायतें हमें निरंतर मिल रही हैं। इन आरोपियों पर आखिर आपका बुलडोजर कब चलेगा ? कमल नाथ ने पीड़ित परिवारों को सुरक्षा और आर्थिक सहायता दिए जाने की मांग करते हुए कहा, इस घटना की सीबीआई जांच हो। इसके साथ ही कांग्रेस के कई नेता सिवनी पहुंचे हैं, इनमें शामिल छिंदवाड़ा के सांसद नकुल नाथ नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह के अलावा अन्य प्रतिनिधि पीड़ित परिवारों से मुलाकात कर रहे हैं। छिंदवाड़ा सांसद नकुल नाथ के सिवनी दौरे को लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने तंज कसते हुए कहा कि, जहां तक नकुल नाथ के सिवनी दौरे की बात है तो नेता प्रतिपक्ष का पद जाने के बाद अब अध्यक्ष पद पर संकट है, ऐसे में बेटे को प्रोजेक्ट कर रहे हैं तो इसमें क्या बुराई है। कांग्रेस की संस्कृति ऐसी है और परंपरा परिवारवाद की है इसलिए परिवार को आगे बढ़ा रहे हैं और वैसे भी उम्र है तो ज्यादा आ जा नहीं पाते। राज्य के गृह मंत्री मिश्रा ने साफ तौर पर कहा है कि गौमांस की बात सामने आ रही है और इस मामले में अधिकांश आरोपियों की गिरफ्तारी भी हो चुकी है इसके साथ ही सरकार ने पीड़ित पक्ष के परिवारों को आर्थिक मदद दी। उन्होंने आगे बताया है कि इस घटना के पीड़ित परिवारों के एक-एक सदस्य को अनुकंपा नियुक्ति दी गई है। राज्य में भाजपा की ओर से लगातार जनजाति वर्ग को लुभाने के लिए कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक दौरा और गृह मंत्री अमित शाह के दो दौरे हो चुके हैं और उन्होंने जनजातीय वर्ग के कार्यक्रम में हिस्सा भी लिया। इसके साथ ही अब प्रदेश सरकार मंडला में आदिवासी महोत्सव आयोजित करने जा रही है। इस बीच सिवनी में हुई घटना ने सियासत को नया रंग दे दिया है। --आईएएनएस एसएनपी/एएनएम

Related Stories

No stories found.