nha-announces-new-mobile-app-to-facilitate-health-records
nha-announces-new-mobile-app-to-facilitate-health-records

एनएचए ने स्वास्थ्य रिकॉर्ड की सुविधा के लिए नई मोबाइल ऐप की घोषणा की

नई दिल्ली, 24 मई (आईएएनएस)। आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (एबीडीएएम) के अंतर्गत राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) ने अपनी प्रमुख योजना आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट (आभा) मोबाइल एप्लिकेशन के संशोधित संस्करण को लॉन्च करने की घोषणा की है। आभा मोबाइल ऐप के बारे में जानकारी देते हुए राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के सीईओ डॉ. आर. एस. शर्मा ने कहा, आभा एप्प नागरिकों को अपना समग्र स्वास्थ्य रिकॉर्ड रखने की सुविधा देगा। मरीज अपने आभा एड्रेस की मदद से सेकंडों में अपने स्वास्थ्य रिकॉर्ड तक पहुंच सकते हैं। इसके कारण उन्हें बहुत सुविधा हो जायेगी। शर्मा ने कहा, यह उन्हें एक ही स्थान पर उनके स्वास्थ्य का पूरा विवरण उपलब्ध करा देगा तथा कहीं भी, कभी भी अपने स्वास्थ्य रिकॉर्ड को साझा करने में उनकी मदद करेगा। इससे उनके रिकॉर्ड के खो जाने का अंदेशा नहीं रहेगा। आंकड़ों के आदान-प्रदान के डिजिटलीकरण से उपचार का बेहतर तरीके से निर्णय करना और देखभाल जारी रखना सुनिश्चित हो जायेगा। आभा मोबाइल एप्लिकेशन पर कोई भी व्यक्ति आभा एड्रेस बना सकता है, आसानी से याद रखने वाले यूजर-नेम को 14 अंक के आभा नंबर से जोड़ सकता है। यह नंबर ऐप अपने आप तैयार कर देगा। मोबाइल एप्लिकेशन के जरिये उपयोगकर्ता एबीडीएम आधारित स्वास्थ्य सुविधा में तैयार स्वास्थ्य रिकॉर्ड्स को जोड़ सकता है तथा अपने स्मार्टफोन पर देख सकता है। इस ऐप में यह भी सुविधा है कि स्वास्थ्य संबंधी जो रिकॉर्ड एबीडीएम आधारित हेल्थ लॉकरों में रखे हैं, उन्हें भी डिजिटल रूप में इससे जोड़ा जा सकता है, जैसे नैदानिक रिपोर्ट्स, डॉक्टर के दवाई के पर्चे, कोविन टीकाकरण प्रमाणपत्र आदि। इन सभी को एबीडीएम नेटवर्क के जरिये संबंधित उपयोगकर्ता की मंजूरी के बाद जोड़ा जा सकता है। इसके अलावा, आभा मोबाइल एप्लीकेशन में नई व्यावहारिक चीजें हैं, जैसे एडिट प्रोफाइल, आभा नंबर (14 अंक वाला) को आभा एड्रेस के साथ लिंक और अन-लिंक करना। इसके अलावा फेस ऑथेंटिकेशन/फिंगरप्रिंट/बायोमेट्रिक द्वारा लॉग-इन और पंजीकरण संबंधी एबीडीएम आधारित सुविधा काउंटर पर क्यूआर कोड की स्कैनिंग सुविधाओं को भी जल्द शुरू किया जाएगा। --आईएएनएस एकेके/एएनएम

Related Stories

No stories found.