Amarnath Yatra 2023: लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा ने अमरनाथ तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को हरी झंडी दिखाई

जम्मू कश्मीर में लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा ने अमरनाथ जाने वाली पहले जत्थे को हरी झंडी दिखा दी है। सुरक्षा के बेहद कड़े इंतजाम किए गए है।
Amarnath Yatra 2023
Amarnath Yatra 2023

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने बुधवार सुबह जम्मू शहर के भगवती नगर स्थित यात्री निवास आधार शिविर से वार्षिक अमरनाथ यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

पहले जत्थे को हरी झंडी दिखाई

हर हर महादेव और बम बम भोले के नारों के बीच उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने बुधवार सुबह जम्मू शहर के भगवती नगर स्थित यात्री निवास आधार शिविर से वार्षिक अमरनाथ यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को झंडी दिखाकर रवाना किया।

कोविड महमारी में 2 साल नहीं हुई यात्रा

रक्षा वाहनों के ऊपर लगी स्वचालित बंदूकों के साथ अर्धसैनिक बल के जवानों का पहला जत्था कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सुबह 4 बजे आधार शिविर से रवाना हुआ। कोविड महामारी के कारण दो साल के अंतराल के बाद गुफा मंदिर की 43 दिवसीय तीर्थयात्रा गुरुवार को कश्मीर में दो आधार शिविरों से शुरू होगी और रक्षा बंधन के अवसर पर 11 अगस्त को समाप्त होगी।

करीब 3 लाख से ज्यादा लोगों ने यात्रा की थी

3.42 लाख से अधिक तीर्थयात्रियों ने 1 जुलाई से 1 अगस्त, 2019 तक मंदिर में पूजा की थी। इससे पहले सरकार ने अनुच्छेद 370 को निरस्त करने और जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने से पहले तीर्थ यात्रा को बीच में ही रद्द कर दिया था।

रेडियो फ्रीक्वेंसी पहचान की शुरुआत

इस वर्ष सरकार ने तीर्थयात्रियों की आवाजाही और भलाई को ट्रैक करने के लिए एक रेडियो फ्रीक्वेंसी पहचान की शुरुआत की है।

एसएसपी चंदन कोहली ने बताया

जम्मू जिले के पुलिस प्रमुख एसएसपी चंदन कोहली ने कहा है कि जम्मू शहर में आधार शिविरों और ठहरने के स्थानों के लिए पर्याप्त सुरक्षा उपाय किए गए हैं। पुलिस ने तीर्थयात्रियों को ले जाने वाले वाहनों के लिए विशेष स्टिकर जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि बिना स्टिकर के किसी भी वाहन को गुफा मंदिर की ओर जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

लंबी यात्रा होगी

यात्रा 30 जून को दक्षिण कश्मीर के पहलगाम में पारंपरिक 45 किलोमीटर लंबे नुनवान मार्ग और गांदरबल में 16 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग से शुरू होगी।

करीब 6 लाख से ज्यादा लोगों की जाने की उम्मीद

वार्षिक अमरनाथ यात्रा के लिए अब तक तीन लाख से अधिक तीर्थयात्रियों ने पंजीकरण कराया है और सरकार को इस वर्ष छह लाख से अधिक तीर्थयात्रियों के आने की उम्मीद है।

पहले जत्थे में करीब 5000 लोग को रवाना किया गया

जम्मू आधार शिविर से श्री अमरनाथ जी गुफा तीर्थ के लिए रवाना होने वाले तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। शांति, समृद्धि और तीर्थयात्रियों के लिए एक सुरक्षित आध्यात्मिक यात्रा के लिए प्रार्थना की। 176 हल्के और भारी वाहनों के काफिले में 4,890 तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को सुबह करीब 4 बजे भगवती नगर आधार शिविर से कश्मीर घाटी के लिए रवाना किया गया।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.