chief-minister39s-attack-on-the-opposition-said-unnecessarily-creating-a-ruckus-by-bringing-a-pointless-issue-in-the-parliament-session
chief-minister39s-attack-on-the-opposition-said-unnecessarily-creating-a-ruckus-by-bringing-a-pointless-issue-in-the-parliament-session

मुख्यमंत्री का विपक्ष पर हमला, बोले, संसद सत्र में तथ्यहीन मुद्दा लाकर बेवजह कर रहे हंगामा

लखनऊ, 6 अगस्त (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संसद सत्र में विपक्ष के हंगामा करने पर निशाना साधा और कहा कि विपक्ष के पास कभी भी कोई मुद्दा नहीं होता है। संसद के हर सत्र में बिना किसी तथ्य के हंगामा करना इनकी आदत सी हो गयी है। बेवजह संसद को ठप किया जा रहा है। हर चुनाव को प्रभावित करना इनकी चाल है। हर संसद सत्र में तथ्यहीन नया मुद्दा लाकर हंगामा करते हैं। यह लोग तो जनता के साथ धोखा कर रहे हैं। इनकी एक ही मकसद है, अपना और सरकार का समय खराब करना। मुख्यमंत्री शुक्रवार को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में भाजपा की आईटी सेल की कार्यशाला में समापन सत्र को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने पेगासस मामले को लेकर विपक्ष पर हमला किया। योगी ने कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले भी राफेल का मुद्दा उछाला गया था, लेकिन जनता ने विपक्ष के आरोपों को नाकारा था। संसद में देश के अंदर आंतरिक व आगे की रणनीति पर चर्चा हो सकती थी। कोरोना से रोजगार पर पड़े असर पर भी चर्चा हो सकती थी, लेकिन विपक्ष ने गलत मुद्दे को लेकर सनसनी पैदा कर संसद नहीं चलने दी। जो लोग पेगासस के मुद्दे को उठा रहे हैं, उनके पास कोई तथ्य नहीं हैं। कुछ दिन पहले इंटरनेट मीडिया पर पेगासस को लेकर एक मुद्दा बनाकर देश की संसद को बदनाम करने की कोशिश की गयी। करोड़ों रुपये खर्च होने के बाद भी संसद नहीं चलने दी गयी। मुख्यमंत्री ने कहा कि कई देशों की उतनी आबादी नहीं होगी जितने लोगों को गुरुवार को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत खाद्यान्न वितरित किया गया। हम देश हित और आने वाली पीढ़ी के हक में काम करते हैं। भारतीय जनता पार्टी अपने और अपने परिवार के लोगों के लिए काम नहीं करती है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद अयोध्या में राम जन्मभूमि का मामला इतना शांतिपूर्ण ढंग से निपट सकता था, कोई नहीं सोचता था, लेकिन ऐसा हुआ। किसी ने सोचा था कि कश्मीर से धारा 370 हट सकती है। वोट बैंक सबको प्यारा था, लेकिन हमारे नेतृत्व ने इस धारा को समाप्त करके एक भारत, श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना को साकार किया। योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कोई घटना होती है तो लोकल लोग कम, अन्य राज्यों व देशों से ट्रायल शुरू हो जाता है। वाकई में ऐसे लोग अपने काम में लग जाते हैं, जिनको यूपी से कोई लेना-देना नहीं होता है। योगी ने कहा कि आज इंटरनेट मीडिया वॉरियर्स की भूमिका बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। हमारे राजनीतिक जीवन में प्रिंट मीडिया का बोलबाला था, लेकिन उसके बाद जिस मीडिया ने अपनी धमक बनायी है वह विजुअल मीडिया है। पिछले दो दशक के दौरान सबसे बड़ा बदलाव मीडिया में आया है। उसका स्वरूप बदला है। कभी डिजिटल मीडिया इतना प्रभावी नहीं होता था। लोकतंत्र के हर एक स्तंभ का अपना योगदान है, विधायिका अपनी, कार्यपालिका अपनी, न्यायपालिका और मीडिया भी अपनी भूमिका के साथ पूरी व्यवस्था पर पैनी निगाह रखता है। उन्होंने भाजपा आईटी कार्यशाला का आयोजन करने वालों को भी सलाह दी कि इस तरह के कार्यक्रम सिर्फ चुनाव को देखकर नहीं बल्कि हमारी दिनचर्या में होना चाहिए। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने इस मौके पर कहा कि पार्टी का कार्यकर्ता निर्माणकर्ता होता है। भाजपा कार्यकर्ता राष्ट्र निर्माण के लिए जीता है। हम सब पवित्र संगठन के योद्धा हैं, हमारा गौरवशाली इतिहास है। पंडित दीन दयाल उपाध्याय देश में लोगों को एक सूत्र में बांधने वाले व्यक्तित्व थे। उन्होंने कहा कि हमारे गांव का एक-एक कार्यकर्ता भी कल का मोदी और योगी है। यूपी की सत्ता पर काबिज भाजपा ऐसी पार्टी है जो अपने कार्यकर्ता को अपना परिवार मानती है। हम छोटे-मोटे दल के नहीं हैं, इस राष्ट्र को बनाने के लिए निकले हैं, इस देश को संभालने के लिए निकले हैं। --आईएएनएस विकेटी/एएनएम

Related Stories

No stories found.