champaran-satyagraha-remains-a-symbol-of-peaceful-revolt-of-farmers
champaran-satyagraha-remains-a-symbol-of-peaceful-revolt-of-farmers

किसानों के शांतिपूर्ण विद्रोह का प्रतीक बना हुआ है चंपारण सत्याग्रह

इस अप्रैल में चंपारण के किसान आंदोलन को 105 वर्ष पूर्ण हुए। खेती के कोर्पोरेटाइजेशन या कंपनीकरण और शोषण की संगठित लूट के खिलाफ चले आंदोलन की कई मांगों की जड़ें चंपारण तक पहुंची मिलेंगी। इसके पहले विद्रोह हुए थे परंतु इस तरह का संगठित नियोजनपूर्ण प्रयास नहीं हुआ था। क्लिक »-www.prabhasakshi.com

Related Stories

No stories found.