center-wrote-letter-to-states-union-territories-regarding-plan-on-heat-related-illness
center-wrote-letter-to-states-union-territories-regarding-plan-on-heat-related-illness

केंद्र ने राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों को गर्मी संबंधी बीमारी पर योजना को लेकर पत्र लिखा

नई दिल्ली, 2 मई (आईएएनएस)। बढ़ती गर्मी और कई स्थानों पर तापमान 46 डिग्री सेल्सियस को छूने के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को गर्मी से संबंधित बीमारियों पर राष्ट्रीय कार्य योजना के बारे में एक पत्र लिखा। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने पत्र में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को हीट वेव के मामलों के प्रभावी प्रबंधन के लिए सभी जिलों में हीट संबंधित बीमारियों पर दिशानिर्देश दस्तावेज राष्ट्रीय कार्य योजना का प्रसार करने के लिए कहा है। भूषण ने पत्र में कहा, 1 मार्च से सभी राज्यों और जिलों में एकीकृत रोग निगरानी कार्यक्रम (आईडीएसपी) के तहत गर्मी से संबंधित बीमारियों पर दैनिक निगरानी शुरू की गई है। कृपया सुनिश्चित करें कि ये दैनिक निगरानी रिपोर्ट एनसीडीसी के साथ साझा की जाती है। दैनिक गर्मी अलर्ट जो आईएमडी द्वारा साझा किए जा रहे हैं साथ ही राज्यों के साथ एनसीडीसी अगले 3-4 दिनों के लिए गर्मी की लहर के पूर्वानुमान का संकेत देता है और जिला स्वास्थ्य सुविधा स्तर पर तुरंत प्रसारित किया जा सकता है। पत्र में आगे लिखा गया है कि राज्य के स्वास्थ्य विभाग को गर्मी की बीमारी पर चिकित्सा अधिकारियों, स्वास्थ्य कर्मचारियों, जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं के संवेदीकरण और क्षमता निर्माण और शीघ्र पहचान और प्रबंधन के प्रयास जारी रखने चाहिए। आवश्यक दवाओं, तरल पदार्थ, आइस पैक, ओआरएस और सभी आवश्यक उपकरणों की पर्याप्त मात्रा की उपलब्धता के लिए स्वास्थ्य सुविधा की तैयारियों की समीक्षा की जानी चाहिए। सभी स्वास्थ्य सुविधाओं में पर्याप्त पेयजल की उपलब्धता और महत्वपूर्ण क्षेत्रों में शीतलन उपकरणों के निरंतर कामकाज को सुनिश्चित किया जाना चाहिए। केंद्र ने राज्यों को सूचना, शिक्षा और संचार (आईईसी) के साथ-साथ समुदाय स्तर की जागरूकता सामग्री का उपयोग करने के लिए कहा है, ताकि लोग गर्मी की लहर से खुद को बचाने के लिए बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में बता सकें। --आईएएनएस एसजीके

Related Stories

No stories found.