british-council-becomes-partner-for-globalization-of-higher-education-in-delhi
british-council-becomes-partner-for-globalization-of-higher-education-in-delhi

दिल्ली में उच्च शिक्षा के वैश्वीकरण हेतु पार्टनर बना ब्रिटिश काउंसिल

नई दिल्ली, 7 मार्च (आईएएनएस)। ब्रिटिश काउंसिल दिल्ली में उच्च शिक्षा के वैश्वीकरण हेतु पार्टनर बनेगा। इसके तहत ब्रिटिश काउंसिल के साथ शिक्षा, अंग्रेजी भाषा और कला के क्षेत्रों में 3 वर्षीय पार्टनरशिप को रिन्यू किया गया है। पार्टनरशिप का उद्देश्य दिल्ली के युवाओं के लिए वैश्विक अवसर पैदा करना है। उपमुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने भारत में ब्रिटिश काउंसिल की डायरेक्टर बारबरा विक्हम ओबीई के साथ यह समझौता किया है। इसके अलावा शिक्षा निदेशालय ने प्रीमियर लीग प्राइमरी स्टार्स प्रोजेक्ट के माध्यम से स्पोर्ट्स एजुकेशन को बढ़ावा देने के लिए भी ब्रिटिश काउंसिल के साथ पार्टनरशिप की। यह प्रोजेक्ट एजुकेशनल डेवलपमेंट के लिए फुटबॉल के बेस्ट प्रैक्टिसेज की समझ बढ़ाने के साथ स्कूल के कोचों और टीचर्स को प्रशिक्षित करता है। साथ ही ये इंक्लूसिव और इफेक्टिव फिजिकल एजुकेशन,पीएसएचई (पर्सनल, सोशल, हेल्थ, इकोनोमिकल) एजुकेशन की दिशा में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। दिल्ली के शिक्षा सचिव एच.राजेश प्रसाद और भारत में ब्रिटिश काउंसिल के डिप्टी डायरेक्टर रोवन कैनेडी की मौजूदगी में शिक्षा निदेशक हिमांशु गुप्ता व ब्रिटिश काउंसिल, नार्थ इंडिया की डायरेक्टर राशि जैन ने इस समझौते पर हस्ताक्षर किया। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि, दिल्ली सरकार का विजन एक ऐसा इको-सिस्टम बनाना है जो समाज के हर तबके के छात्रों और युवाओं को बेहतर एजुकेशन और सोशल मोबिलिटी के अवसरों तक पहुंचने में सक्षम बनाता है, ताकि उन्हें सही मायने में ग्लोबल सिटीजन बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि हम शिक्षा और संस्कृति में अंतरराष्ट्रीय कोलैबोरेशन पर विश्वास करते हैं, क्योंकि ये एजुकेशनल इको-सिस्टम को सक्षम बनाने, विचारों के मुक्त आदान-प्रदान और भविष्य के युवाओं को सक्रिय और सक्षम बनाने की सफलता का कारण बन सकता है। सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली सरकार के स्कूलों में टीचिंग-लनिर्ंग की गुणवत्ता को बेहतर बनाने की दिशा में ब्रिटिश काउंसिल और यूके विश्वसनीय भागीदार रही हैं। यहीं कारण है कि दिल्ली स्पोकन इंग्लिश प्रोजेक्ट जैसे हमारे कुछ जॉइंट प्रोजेक्ट्स को अंतराष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली है। उन्होंने कहा कि अब हम अपने इस पार्टनरशिप के अगले चरण में प्रवेश करते हैं हुए भविष्य में कोलैबोरेशन के नए क्षेत्रों में आगामी दिल्ली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी, टीचर्स यूनिवर्सिटी व स्कूलों में चले रहे पहलों में नए इनोवेशन अपनाने के लिए यूके के साथ काम करेंगे। भारत में ब्रिटिश काउंसिल की डायरेक्टर, बारबरा विक्हम ओबीई ने कहा कि, हमें दिल्ली सरकार के साथ अपनी साझेदारी को रिन्यू करने पर गर्व है। हम स्कूलों में टीचिंग-लनिर्ंग की गुणवत्ता को बेहतर करने और शिक्षा के क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीयकरण के लिए उनके विजन को सपोर्ट करते हैं। दिल्ली सरकार और ब्रिटिश काउंसिल के संयुक्त पहल के परिणामस्वरूप दिल्ली के युवाओं और छात्रों के लिए अवसरों में काफी वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा, शिक्षा और संस्कृति में यूके के एक्सपर्ट्स के साथ काम करते हुए हम ऐसे कार्यक्रम तैयार करने के लिए तत्पर हैं, जो दिल्ली में छात्रों, शिक्षकों और युवाओं को उनकी क्षमता को बेहतर ढंग से पहचानने और अवसरों का विस्तार करने के लिए तैयार करेंगे। उल्लेखनीय है कि ब्रिटिश काउंसिल का दिल्ली सरकार की साथ लंबे समय से साझेदार है और दिल्ली सरकार के स्कूलों में अंग्रेजी भाषा सीखने, लिंग संवेदीकरण और स्पोर्ट्स एजुकेशन जैसी इनिशिएटिव को सपोर्ट करता है। --आईएएनएस जीसीबी/एएनएम