report-of-evaluation-of-secondary-higher-secondary-candidates-without-examination-presented-waiting-for-the-consent-of-the-chief-minister
report-of-evaluation-of-secondary-higher-secondary-candidates-without-examination-presented-waiting-for-the-consent-of-the-chief-minister

बिना परीक्षा माध्यमिक-उच्च माध्यमिक परीक्षार्थियों के मूल्यांकन की रिपोर्ट पेश, मुख्यमंत्री की सहमति का इंतजार

कोलकाता, 10 जून (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पहले ही घोषणा कर चुकी हैं कि इस बार कोरोना महामारी की वजह से राज्य में माध्यमिक और उच्च माध्यमिक की परीक्षाएं नहीं होंगी। छात्रों का मूल्यांकन कर उन्हें प्रमोट कर दिया जाएगा। सीएम ने कहा था कि एक सप्ताह के भीतर इसकी विस्तृत रिपोर्ट पेश की जाएगी कि आखिर छात्रों का मूल्यांकन कैसे होगा। अब गुरुवार को इसकी रिपोर्ट पेश कर दी गई है। स्कूल शिक्षा विभाग के मुताबिक माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से गुरुवार दोपहर रिपोर्ट सौंपी गई। फिर दोपहर में उच्च शिक्षा विभाग को ईमेल के माध्यम से रिपोर्ट भेज दी गई है। स्कूल शिक्षा विभाग के अनुसार अंतिम मंजूरी के लिए रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्यालय को भेजी जाएगी। इस बीच माध्यमिक शिक्षा परिषद के अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली ने शिक्षा मंत्री ब्रात्य बसु के साथ बैठक कर छात्रों को मार्कशीट कैसे दी जाए इस पर चर्चा की है। हालांकि, हायर सेकेंडरी में छात्रों को मार्कशीट कैसे दी जाए, इस पर संसद के अधिकारी लगातार दो दिनों से बैठक कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक उच्च शिक्षा परिषद की ओर से गुरुवार दोपहर ईमेल के जरिए विस्तृत रिपोर्ट दी गई है। अब मुख्यमंत्री की सहमति के बाद उसे अंतिम रूप दिया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/गंगा

Related Stories

No stories found.