संदेशखाली की घटना पर PM मोदी ने किया I.N.D.I गठबंधन के नेताओं पर तंज, कहा 'गांधी जी के बंदरों की तरह...'

PM Modi On Sandeshkhali: पीएम मोदी ने संदेशखाली मुद्दे पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ पूरे विपक्षी गठबंधन इंडिया के नेताओं को आड़े हाथों लिया।
Narendra Modi
Narendra ModiRaftaar

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज पश्चिम बंगाल के दौरे पर है। पीएम मोदी का यह दौरा लोकसभा चुनाव को लेकर बहुत खास है। पीएम का यह दौरा ऐसे समय में हुआ है जब राज्य में बीजेपी और टीएमसी के बीच संदेशखाली पर तनातनी का माहौल चल रहा है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने बंगाल दौरे पर अरमबोल की एक जनसभा में लोगों को संबोधित करते हुए संदेशखाली की घटना का जिक्र किया। पीएम मोदी ने इस घटना को लेकर सूबे की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा। पीएम ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ पूरे विपक्षी गठबंधन इंडिया के नेताओं को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि विपक्षी इंडिया गठबंधन के नेता संदेशखाली की घटना पर गांधी जी के तीन बंदरों की तरह आंख, कान और मुंह बंद कर के बैठे रहे।

TMC ने गरीब को राशन देने में घोटाला किया- प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री ने आगे जनता से सवाल पूछते हुए कहा कि "माताओं और बहनों के साथ जो हुआ आप उसका बदला लेंगे या नहीं लेंगे? बंगाल की जनता मुख्यमंत्री दीदी से पूछ रही है। क्या कुछ लोगों का वोट ममता दीदी आपके लिए बंगाल की महिलाओं से ज़्यादा महत्वपूर्ण हो गया है? आपको शर्म आनी चाहिए।" पीएम ने आगे कहा, "इंडी गठबंधन के नेता संदेशखाली पर आंख-नाक-कान-नाक-मुंह बंद करके रखे हुए थे, जैसे गांधी जी के तीन बंदर।" इसके बाद पीएम ने टीएमसी ने किए घोटाले को लेकर कहा कि "इंडी गठबंधन के लिए भ्रष्टाचारियों परिवारवादियों और तुष्टिकरण करने वालों का साथ देना, यही एक मात्र काम बचा है। TMC ने पश्चिम बंगाल में अत्याचार का एक नया मॉडल पैदा कर दिया है। TMC ने यहां प्राइमरी टीचर्स की भर्ती में घोटाला किया। म्यूनिसपैलटी भर्ती में घोटाला किया। गरीब को राशन देने में घोटाला किया है। यही सच्चाई कांग्रेस की और इंडी गठबंधन की भी है।

ये लोग मोदी को अपना दुश्मन नंबर वन मानते हैं

पीएम मोदी ने कहा कि इन लोगों को गरीब की जमीन पर जबरन कब्जा करना और बॉर्डर पर जानवरों की स्मगलिंग करने वाले लोगों का साथ चहिए। TMC ने भ्रष्टाचार के लिए कोई क्षेत्र नहीं छोड़ा है। इसलिए TMC के मंत्रियों के घर से नोटों के ढेर निकल रहे हैं। यहां की सरकार केंद्रीय जांच एजेंसियों को रोकने के लिए हर हथकंडा अपना रही है। यहां तक की मुख्यमंत्री धरने पर बैठ जाती हैं और चाहती हैं कि केंद्र की परियोजनाओं में उनको खुली लूट करने का मौका मिले। लेकिन मै आप सबको बता दूं मोदी इनको ये करने नहीं दे रहा है और ना ही करने देगा। इसलिए ये लोग मोदी को अपना दुश्मन नंबर वन मानते हैं। ये लोगों को भटका रहें है। पीएम की इस यात्रा पर कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने भी प्रतिक्रिया दी और कहा, "पीएम मोदी इलेक्टोरल टूरिज्म कर रहे हैं। अब चुनावी पर्यटक बनकर वो देश में घुमेंगे। इस समय वो बंगाल की चुनावी यात्रा पर है। यहां वो झूठ के पुलिंदा पेश करेंगे।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.