BJP उम्मीदवार राजमाता अमृता रॉय से PM मोदी ने की बात, कहा- गरीबों से लूटा गया पैसा उनको वापस वापस दिया जाए...

Lok Sabha Election 2024: PM नरेंद्र मोदी ने कृष्णानगर लोकसभा क्षेत्र में तृणमूल कांग्रेस की महुआ मोइत्रा के खिलाफ बीजेपी उम्मीदवार और पूर्ववर्ती राजघराने की सदस्य अमृता रॉय के साथ टेलीफोन पर बातचीत।
PM Modi spoke Rajmata Amrita Roy
PM Modi spoke Rajmata Amrita RoyRaftaar

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। लोकसभा चुनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कृष्णानगर लोकसभा क्षेत्र में तृणमूल कांग्रेस की महुआ मोइत्रा के खिलाफ बीजेपी उम्मीदवार और पूर्ववर्ती राजघराने की सदस्य अमृता रॉय के साथ टेलीफोन पर बातचीत। इस दौरान पीएम ने कहा कि वह यह सुनिश्चित करने के लिए काम कर रहे हैं कि पश्चिम बंगाल में गरीबों से लूटा गया पैसा उनको वापस लौटाया जा सके।

भ्रष्टाचारियों से जब्त पैसा गरीब जनता को वापस दिया जाएगा- पीएम मोदी

बीजेपी नेताओं ने बताया कि PM मोदी ने राजमाता अमृता रॉय से कहा कि भ्रष्टाचारियों ने आम जनता का पैसा लूटा है और ईडी ने उन भ्रष्टाचारियों से जो भी संपत्ति और धन जब्त किया है, उसे गरीब जनता को वापस दिया जाए… यह सुनिश्चित करने के लिए वह कानूनी विकल्प तलाश रहे हैं। पीएम मोदी से बातचीत के दौरान कृष्णानगर के 'राजबाड़ी' की राजमाता अमृता रॉय ने विपक्ष के आरोपों को लेकर भी पीएम मोदी से सवाल किया। उन्होंने प्रधानमंत्री को बताया कि विपक्ष के नेता महाराजा कृष्ण चंद्र देव के परिवार को गद्दार कह रहे हैं।

पीएम ने विश्वास जताया कि पश्चिम बंगाल में जनता परिवर्तन के लिए मतदान करेगी

राजमाता अमृता के सवाल का जवाब देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमें बचपन में जो पढ़ाया जाता था। उसमें महाराजा कृष्ण चंद्र द्वारा किए गए कामों को बताया गया है। उन्होंने कहा वोटबैंक की राजनीति करने वाले लोग बहुत अनाप-शनाप आरोप लगाएंगे और उन्हें बदनाम करने का प्रयास करेंगे। ये लोग अपने वर्तमान पापों को छुपाने के लिए ऐसी चीजें करते हैं। इसके साथ पीएम ने विश्वास जताया कि पश्चिम बंगाल में जनता परिवर्तन के लिए मतदान करेगी। बीजेपी देश से भ्रष्टाचार को उखाड़ फेंकने के लिए प्रतिबद्ध है, तो दूसरी तरफ सारे भ्रष्ट एक दूसरे को बचाने के लिए एक साथ आ गए हैं।

तृणमूल कांग्रेस के कई नेताओं पर कथित तौर पर भ्रष्टाचार के आरोप

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की सत्ता है। यहां तृणमूल कांग्रेस के कई नेताओं पर कथित तौर पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे है। भाजपा इनके खिलाफ भ्रष्टाचार के मुद्दों को लेकर कफी मुखर रहीं है। पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी सहित कुछ नेताओं की गिरफ्तारी और बड़ी मात्रा में धन और अन्य संपत्ति की बरामदगी को लेकर बीजेपी पिछले कुछ समय से तृणमूल कांग्रेस सरकार पर हमलावर रही है। बीजेपी ने 2019 में राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 सीटों पर जीत हासिल की थी। इस बार वह इससे बेहतर प्रदर्शन की कोशिश कर रही है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.