PM Modi in bengal: पीएम मोदी ने बोला बनर्जी पर हमला, कहा- मां, माटी, मानुष का अपमान कर रही तृणमूल कांग्रेस

PM Modi in bengal: प्रधानमंत्री ने कहा, "तृणमूल को बंगाल की जनता ने बार-बार जनादेश दिया गया लेकिन वो अत्याचार का पर्याय बन गई है। वो विकास को नहीं परिवारवाद और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देती है।
PM Modi in bengal, Mamta Banerjee
PM Modi in bengal, Mamta BanerjeeRaftaar

कोलकाता, (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल दौरे के दूसरे दिन शनिवार को नदिया जिले के कृष्णानगर में रोड शो और जनसभा की। इस दौरान प्रधानमंत्री ने एक बार फिर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्य सरकार पर तीखा हमला बोला। मोदी ने कहा, "तृणमूल ने मां माटी और मानुष का नारा लगाकर इसका अपमान किया। संदेशखाली की बहनें इंसाफ की गुहार लगाती रहीं लेकिन तृणमूल सरकार ने उनकी एक नहीं सुनी। बंगाल में पुलिस नहीं बल्कि अपराधी तय करते हैं कि उन्हें कब गिरफ्तार होना है और कब सरेंडर करना है। बंगाल की नारी शक्ति जब दुर्गा का रूप लेकर खड़ी हो गईं तब सरकार को उनके सामने झुकना पड़ा।"तृणमूल

तृणमूल अत्याचार का पर्याय बन गई है- प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री ने कहा, "तृणमूल को बंगाल की जनता ने बार-बार जनादेश दिया गया लेकिन वो अत्याचार का पर्याय बन गई है। वो विकास को नहीं परिवारवाद और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देती है। तृणमूल बंगाल के लोगों को गरीब बनाए रखना चाहती है ताकि उनकी राजनीति और खेल चलता रहे। मोदी ने पश्चिम बंगाल को पहला एम्स देने की गांरटी दी थी और मोदी की गारंटी का मतलब गारंटी की भी गारंटी। नादिया जिले में कुछ दिनों पहले ही एम्स का लोकार्पण किया है। पश्चिम बंगाल सरकार को एम्स बनने से परेशानी है। तृणमूल सरकार तो केंद्र की योजनाओं को लागू नहीं होने देती है। बंगाल में सुधार के लिए केंद्र सरकार निरंतर काम कर रही है।"

तृणमूल ने बंगाल को किया बदनाम - प्रधानमंत्री

मुख्यमंत्री बनर्जी पर हमला बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ''तृणमूल ने बंगाल को इस तरह से बदनाम किया है कि वो हर स्कीम को स्कैम में बदल देती है। केंद्रीय योजनाओं का नाम बदलकर बंगाल में चलाने का आरोप लगाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि ये लोग केंद्र सरकार की योजनाओं पर अपना स्टीकर लगाते हैं। ये लोग गरीबों की योजनाओं को भी नहीं छोड़ते। पश्चिम बंगाल में बदलाव की शुरुआत आप लोगों को इसी लोकसभा चुनाव से करनी होगी।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.