Sandeshkhali: शुभेंदु अधिकारी को संदेशखाली जाने से धमखाली में पुलिस ने रोका, धारा 144 लागू, धरने पर बैठी BJP

Kolkata: शुभेंदु अधिकारी को संदेशखाली जाने से आज पुलिस ने रोक दिया है। शुभेंदु अधिकारी और BJP कार्यकर्ताओं ने ममता सरकार के खिलाफ यौन शोषण करने का बचाव करने के नारे लगाए।
Sandeshkhali
Sandeshkhali Raftaar.in

कोलकाता, हि.स.। पश्चिम बंगाल में BJP के वरिष्ठ विधायक और नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी को एक बार फिर पुलिस ने संदेशखाली जाने से रोक दिया है। वह पार्टी के अन्य विधायकों को साथ लेकर एक बार फिर संदेशखाली जाने के प्रयास में थे, लेकिन धमाखाली में उन्हें रोक दिया गया है। इसके बाद उन्होंने वहां ममता सरकार के खिलाफ प्रदशर्न किया।

धमखाली में धारा 144 लागू

शुभेंदु अधिकारी और BJP कार्यकर्ता धमखाली के नदी घाट के जरिए भी वह जाने की फिराक में थे लेकिन पुलिस ने धमखाली में धारा 144 लगाई है। यहां जब पुलिस अधिकारियों ने शुभेंदु अधिकारी के काफिले को रोका तो BJP नेताओं के साथ पुलिसकर्मियों की जमकर बहस हुई। प्रशासन की ओर से बताया गया कि डीएम के आदेश पर एंट्री प्वाइंट्स पर धारा 144 लगी हुई है, इसलिए किसी को नहीं जाने दिया जा सकता।

शुभेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी पर लगाए गंभीर आरोप

इस पर शुभेंदु ने आरोप लगाया कि ममता बनर्जी की सरकार इलाके में महिलाओं से हुए दुष्कर्म और अन्य वारदात की घटनाओं पर पर्दा डालने के लिए तिकड़म रच रही है। उन्होंने कहा कि ममता सरकार डरी हुई है और नहीं चाहती है कि विपक्ष असल हालात से रूबरू हो। उन्होंने पुलिसकर्मियों की ओर से रोके जाने के बाद वही धरना शुरू कर दिया और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि यह चौथी बार है जब प्रशासन ने उन्हें संदेशखाली जाने से रोका है।

कलकत्ता हाई कोर्ट जाएंगे शुभेंदु अधिकारी

अधिकारी ने कहा कि अब वह इस जबरदस्ती के खिलाफ हाई कोर्ट का रुख करेंगे। दरअसल कलकत्ता हाई कोर्ट ने एक दिन पहले ही पूरे संदेशखाली इलाके में धारा 144 को निरस्त करने का आदेश दिया है। बावजूद इसके प्रशासन अलग-अलग एंट्री प्वाइंट्स पर धारा 144 लगा रखा है। TMC नेता शेख शाहजहां और उसके करीबियों पर महिलाओं के साथ यौन शोषण का आरोप लगा है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.