Amrita Roy and Mahua Moitra
Amrita Roy and Mahua Moitraraftaar.in

BJP ने महुआ मोइत्रा के खिलाफ अमृता रॉय को उतारा, TMC बोली- इनके पुरखों ने की थी अंग्रेजों की मदद; BJP हमलावर

Loksabha Election: पश्चिम बंगाल की कृष्णानगर लोकसभा सीट से राजमाता अमृता रॉय को भाजपा का टिकट मिलने से राज्य की राजनीति गरमा गई है।

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। पश्चिम बंगाल की कृष्णानगर लोकसभा सीट से राजमाता अमृता रॉय को भाजपा का टिकट मिलने से राज्य की राजनीति गरमा गई है। तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा की कृष्णानगर लोकसभा सीट से उम्मीदवार राजमाता अमृता रॉय के परिवार का अंग्रेजों का साथ देने का आरोप लगा डाला है। हालांकि राजमाता अमृता रॉय ने इसे गलत आरोप बताया है। भाजपा ने राजमाता अमृता रॉय को अपनी पांचवी सूची में शामिल किया है। बीजेपी ने राजमाता अमृता को तृणमूल कांग्रेस की पूर्व सांसद महुआ मोइत्रा के खिलाफ कृष्णा नगर सीट से मैदान में उतारा है।

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कुणाल घोष ने सोमवार को दावा किया

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कुणाल घोष ने सोमवार को दावा किया है कि भाजपा की पश्चिम बंगाल की कृष्णानगर लोकसभा सीट से उम्मीदवार राजमाता अमृता रॉय का परिवार ने अंग्रेजो का सपोर्ट किया था। उन्होंने कहा कि जब बंगाल के नवाब सिराजुद्दौला अंग्रेजो के खिलाफ लड़ रहे थे, तो कृष्णानगर के राजा कृष्णचंद्र रॉय ने अंग्रेजी सेना की मदद की थी। घोष ने भाजपा पर तंज करते हुए कहा कि यह साफ है कि वीर सावरकर की पार्टी, जो महात्मा गांधी की हत्या के लिए जिम्मेदार है। उस परिवार से किसी को कैंडिडेट बनाएगी, जिसने अंग्रेजो का समर्थन किया था। घोष ने कहा की दूसरी तरफ महुआ मोइत्रा है जो देश के भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रही है।

राजमाता अमृता रॉय ने घोष के आरोपों का दिया कड़ा जवाब

वहीं भाजपा की कृष्णानगर लोकसभा सीट से उम्मीदवार राजमाता अमृता रॉय ने घोष के आरोपों का कड़ा जवाब देते हुए कहा कि मेरे परिवार के बारे में जो भी झूठ बोला जा रहा है वह सरासर गलत है। हर बंगाली और हर भारतीय मेरी इस बात से सहमत होगा। अमृता रॉय ने कहा कि राजा कृष्णचंद्र रॉय ने अंग्रेजों का साथ दिया था यह आरोप लगाए जा रहे हैं। राजमाता अमृता ने कहा कि राजा कृष्णचंद्र रॉय ने ऐसा क्यों किया तो इसके बारे में मै बताती हूँ कि उन्होंने ऐसा सिराजुद्दौला की प्रताड़ना की वजह से किया। अगर राजा कृष्णचंद्र रॉय ने ऐसा नहीं किया होता तो हिन्दू धर्म यहां बच नहीं पाता। अमृता रॉय ने कहा कि हम ऐसा क्यों नहीं कह सकते कि महाराजा ने हमें सांप्रदायिक विरोधी हमले से बचाने का कार्य किया था।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.