Bengal News: बंगाल में लोकसभा चुनाव को लेकर शुभेंदु अधिकारी का बड़ा दावा, कहा- परिणाम आते ही हो जाएगा खेला

Bengal News: पूरे देश के साथ साथ पश्चिम बंगाल में भी लोकसभा चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज गई है। इन सबके बीच सीएए का मुद्दा एक बार फिर पश्चिम बंगाल के चुनावी मैदान में लौट आया है।
Shubhendu Adhikari
Shubhendu Adhikariraftaar.in

हुगली, (हि. स.)। पूरे देश के साथ साथ पश्चिम बंगाल में भी लोकसभा चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज गई है। इन सबके बीच सीएए का मुद्दा एक बार फिर पश्चिम बंगाल के चुनावी मैदान में लौट आया है। कुछ दिन पहले तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी ने सीएए को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोला था।

ममता बनर्जी भयभीत हो गई हैं

इस बार राज्य विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने सीएए को लेकर राज्य के सत्ताधारी खेमे पर हमला बोला है। शुक्रवार शाम हुगली जिले के चुंचूड़ा में शुभेंदु ने कहा ''1945 से पश्चिम बंगाल के दो करोड़ बंगाली हिंदुओं का संघर्ष फरवरी में सफल होने जा रहा है। इसलिए ममता बनर्जी भयभीत हो गई हैं।'''

सीएए पोर्टल लॉन्च होने वाला है

शुभेंदु अधिकारी ने बताया कि ममता बनर्जी इसलिए भयभीत हो गई हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव के बाद भाजपा को 35 सीट आएंगे और तृणमूल कांग्रेस साफ हो जाएगी। और इसके बाद राज्य में भाजपा की सरकार आ जाएगी। शुभेंदु अधिकारी ने आगे कहा, मेरे पास पास खबर है, सीएए पोर्टल लॉन्च होने वाला है। कानून पहले ही पारित हो चुका है। नियम बना हुआ है। गृह मंत्रालय इसे फरवरी में लागू करने जा रहा है।''

सीएए की कोई जरूरत नहीं है: ममता बनर्जी

इसके बाद शुभेंदु ने कहा ''धार्मिक कारणों से प्रताड़ित होकर बांग्लादेश से भागे बंगाली हिंदुओं को एक साथ नागरिकता देना नरेंद्र मोदी की प्रतिबद्धता है। अमित शाह का बनाया कानून लागू होने जा रहा है। उल्लेखनीय है कि केंद्रीय मंत्री और बनगांव से भाजपा सांसद शांतनु ठाकुर ने रविवार को काकद्वीप में एक बैठक में दावा किया था, ''''मैं गारंटी देता हूं, सीएए सात दिनों के भीतर लागू किया जाएगा.'''' इसके बाद राज्य के मंत्री शशि पांजा ने पलटवार करते हुए कहा था, ''''मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कर दिया है कि सीएए की कोई जरूरत नहीं है। सीएए बंगाल में प्रभावी नहीं होगा।”

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.