संदेशखाली को लेकर अधीर रंजन ने ममता सरकार पर साधा निशाना, बोले- 'शर्म आती है कि मैं बंगाल में रह रहा हूं'

Bengal News: पश्चिम बंगाल के वरिष्ठ कांग्रेस नेता और सांसद अधीर रंजन चौधरी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर संदेशखाली मामले को लेकर निशाना साधा है।
Mamta Bnerjee and Adhir Ranjan
Mamta Bnerjee and Adhir Ranjanraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। पश्चिम बंगाल के वरिष्ठ कांग्रेस नेता और सांसद अधीर रंजन चौधरी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर संदेशखाली मामले को लेकर निशाना साधा है। उन्होंने मुख्यमंत्री से पूछा है कि आप किस तरफ है, बंगाल की सीएम क्या आपको लगता है कि महिलाओं का वेतन बढ़ा देने से उनकी गरिमा की रक्षा हो जाएगी। आपकी पार्टी के लोग बंगाली माता-बहनो का रेप कर रहे हैं, उनका यौन उत्पीड़न किया जा रहा है। अधीर रंजन यही नहीं रुके, उन्होंने ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए कहा की आपके नेता रात को 12 बजे के बाद पत्नी को पति के पास से ले जाते है। लेकिन आप ऐसे लोगो के बारे में नहीं सोचती हैं। आप बंगाल की मुख्यमंत्री हैं। मुझे यह सोचकर शर्म आती है कि मैं बंगाल में रह रहा हूँ।

जिसे 55 दिन बाद गिरफ्तार किया गया

संदेशखाली बांग्लादेश से सटा हुआ इलाका है। यहां 5 जनवरी को ईडी की टीम ममता बनर्जी की पार्टी के नेता शाहजहां शेख के आवास पर छापा मारने पहुंची थी, लेकिन शाहजहां शेख ने अपने गुर्गों की भीड़ वहां बुला ली थी। जिन्होंने ईडी की टीम पर हमला बोल दिया था। कम से कम 200 से अधिक स्थानीय लोगो की भीड़ ने ईडी के अधिकारियों और उनके साथ चल रहे अर्धसैनिक बलों की गाड़ियों को घेर लिया था।

इस भीड़ ने ईडी के अधिकारियों की गाड़ियों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया था। इस हमले में ईडी के 3 अधिकारी अंकुर गुप्ता, राजकुमार राम और सोमनाथ दत्त घायल हो गए थे। इसको लेकर पुलिस ने 4 गिरफ्तारी की थी। शाहजहां शेख तब से ही फरार हो गया था। जिसे 55 दिन बाद गिरफ्तार किया गया। शाहजहां शेख पश्चिम बंगाल के राशन वितरण घोटाले में 10000 करोड़ रु के भ्रष्टाचार का आरोपी है, इसी को लेकर ईडी की टीम उसके आवास पर छापा मारने पहुंची थी।

ममता बनर्जी के ढीले रवैये को लेकर सबकी नाराजगी है

वहीं शाहजहां शेख का मामला मीडिया में आ जाने के बाद, संदेशखाली की पीड़ित महिलाओं ने भी अपने साथ हुए अत्याचार का मुद्दा उठाना शुरू किया। उनके साथ शाहजहां शेख के लोग यौन उत्पीडन किया करते थे, बालात्कार किया करते थे। उनके पतियों के सामने ही उनकी पत्नियों को आधी रात में उठा लिया करते थे। जिसके बाद से यह मुद्दा काफी सुर्खियों में है। विपक्ष ममता बनर्जी पर हावी है। ममता बनर्जी के ढीले रवैये को लेकर सबकी नाराजगी है।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.