Uttarkashi: PM मोदी ने CM धामी से ली, सिलक्यारा रेस्क्यू ऑपरेशन की जानकारी, युद्धस्तर पर जारी बचाव अभियान

Uttarkashi News: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पुनः फोन कर उत्तरकाशी की सिलक्यारा निर्माणाधीन सुरंग में फंसे श्रमिकों के राहत एवं बचाव कार्य के संबंध में जानकारी ली।
Uttarkashi Tunnel
Uttarkashi Tunnel Raftaar.in

उत्तरकाशी, हि.स.। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पुनः फोन कर उत्तरकाशी की सिलक्यारा निर्माणाधीन सुरंग में फंसे श्रमिकों के राहत एवं बचाव कार्य के संबंध में जानकारी ली। प्रधानमंत्री मोदी ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री धामी से सिलक्यारा सुरंग में फंसे श्रमिकों का कुशलक्षेम जाना। प्रधानमंत्री ने ड्रिलिंग के संबंध में संपूर्ण जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि सुरंग के अंदर फंसे श्रमिकों के साथ ही उन्हें बाहर निकालने के राहत बचाव कार्य में जुटे लोगों की सुरक्षा का भी विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि सुरंग के अंदर फंसे श्रमिकों के परिजनों को किसी भी तरह की परेशानी ना हो। साथ ही प्रधानमंत्री ने आगामी रणनीति पर भी चर्चा की।

मैन्युअली ड्रिलिंग कार्य शुरू

मुख्यमंत्री धामी ने प्रधानमंत्री को बताया कि मैन्युअली ड्रिलिंग कार्य शुरू कर दिया गया है। अब तक कुल 52 मीटर पाइप को पुश कर लिया गया है। यदि कोई बड़ी अड़चन नहीं आई तो शीघ्र ही सभी श्रमिकों को बहार निकाल लिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि अंदर फंसे सभी श्रमिकों का स्वास्थ्य सकुशल है। राहत एवं बचाव कार्य में जुटे श्रमिक, इंजीनियर और विशेषज्ञ अधिकारी हर संभव प्रयास कर रहे हैं।

श्रमिकों को नियमित खाने-पीने की सुविधाएं दी जा रही

मुख्यमंत्री धामी ने बताया कि अंदर फंसे सभी श्रमिकों को नियमित रूप से गुणवत्ता पूर्ण भोजन भेजा जा रहा है। सभी श्रमिकों से निरंतर डॉक्टर एवं मनोचिकित्सकों से भी संवाद करवाया जा रहा है। सुरंग के अंदर फंसे श्रमिकों के परिजनों से भी निरंतर बात करवाई जा रही है। उन्होंने बताया कि एसडीआरफ के स्थापित कम्युनिकेशन सेटअप के अतिरिक्त बीएसएनएल द्वारा टेलिफोनिक कम्युनिकेशन सेटअप को भी स्थापित किया है।

रेस्क्यू टीम व अधिकारी 24 घंटे अलर्ट पर

मुख्यमंत्री ने बताया कि फंसे श्रमिकों को निकल जाने के उपरांत सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। उन्होंने बताया एसडीआरएफ, एनडीआरएफ मौके पर तैनात की गई है। डॉक्टर की टीम भी मौके पर मौजूद है। सभी रेस्क्यू टीम व अधिकारियों को 24 घंटे अलर्ट पर रखा गया है।
अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

रफ़्तार के WhatsApp Channel को सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें Raftaar WhatsApp

Telegram Channel को सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें Raftaar Telegram

Related Stories

No stories found.