kuta-pays-tribute-to-milkha-singh
kuta-pays-tribute-to-milkha-singh

कूटा ने मिल्खा सिंह को दी श्रद्धांजलि

नैनीताल, 19 जून (हि.स.)। कुमाऊं विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (कूटा) ने देश के महान एवं विश्वविख्यात फर्राटा धावक, ‘उड़न सिख’ के नाम से विख्यात मिल्खा सिंह के निधन पर शोक व्यक्त कर श्रद्धांजलि दी। कूटा के अध्यक्ष प्रो. ललित तिवारी ने कहा कि मिल्खा सिंह ने वर्ष 1956 के मेलबोर्न ओलिंपिक खेलों में 200 और 400 मीटर में भारत का प्रतिनिधित्व किया और मामूली अंतर से चौथे स्थान पर रहकर पदक से चूके। उन्होंने 1958 में कटक में आयोजित राष्ट्रीय खेलों में 200 और 400 मीटर प्रतियोगिता में राष्टीय कीर्तिमान स्थापित किये और एशियन खेलों में भी इन दोनों प्रतियोगिताओं में तथा ब्रिटिश राष्ट्रमंडल खेलों में 400 मीटर प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक हासिल किये। इस प्रकार वह राष्ट्रमंडल खेलों के व्यक्तिगत स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने वाले स्वतंत्र भारत के पहले खिलाड़ी भी बने। पाकिस्तान में हुए एशियाई खेलों में पाकिस्तानी धावक को हराकर स्वर्ण पदक जीतने पर उन्हें पाकिस्तान के राष्ट्रपति जनरल अयूब खान ने ‘उड़न सिख’ कह कर पुकारा। श्रद्धांजलि देने वालों में कूटा के डॉ.विजय कुमार, डॉ.सुहैल जावेद, डॉ.दीपिका गोस्वामी, डॉ.दीपक कुमार, डॉ.पैनी जोशी, डॉ. प्रदीप कुमार, डॉ. सीमा चौहान, डॉ. गगन होती, डॉ. रीतेश साह इत्यादि भी शामिल रहे। हिन्दुस्थान समाचार/डॉ.नवीन जोशी

Related Stories

No stories found.