हल्द्वानी के बनभूलपुरा हिंसा का मास्टर माइंड अब्दुल मलिक दिल्ली से गिरफ्तार, अब तक 81 उपद्रवी सलाखों के पीछे

Haldwani Vanbhulpura Violence: उत्तराखंड के नैनीताल जिला स्थित हल्द्वानी के बनभूलपुरा हिंसा के मास्टर माइंड अब्दुल मलिक को नैनीताल पुलिस ने शनिवार को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया।
Haldwani Vanbhulpura Violence, Abdul Malik
Haldwani Vanbhulpura Violence, Abdul MalikRaftaar

देहरादून, (हि.स.)। Haldwani Violence: उत्तराखंड के नैनीताल जिला स्थित हल्द्वानी के बनभूलपुरा हिंसा के मास्टर माइंड अब्दुल मलिक को नैनीताल पुलिस ने शनिवार को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया। साथ ही दो अन्य उपद्रवियों को भी गिरफ्तार किया है। इस मामले में अब तक कुल 81 उपद्रवी गिरफ्तार कर जेल भेजे जा चुके हैं। इन सभी ने न्याय व्यवस्था और पुलिस को चुनौती देने के साथ देश में माहौल खराब करने की कोशिश की थी। अब पुलिस इन पर सख्त कार्रवाई करेगी।

पुलिस टीम ने अब तक 78 उपद्रवियों को किया गिरफ्तार

इस हिंसा में शामिल उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए एसएसपी नैनीताल प्रह्लाद नारायण मीणा ने विभिन्न टीमों का गठन किया है। पुलिस टीम ने अब तक सीसीटीवी व अन्य साक्ष्यों के आधार पर घटनास्थलों के आसपास घरों में दबिश देकर पूर्व में 78 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से हथियार व कारतूस बरामद किए हैं। इस मामले में तीन मुकदमे दर्ज किए गए हैं, जिनमें नामजद सहित बड़ी संख्या में अज्ञात शामिल हैं। मास्टर माइंड को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस मामले की तह तक जाएगी और उपद्रवियों की मंशा उजागर करेगी।

50 हजार रुपये इनाम की घोषणा-

पुलिस महानिरीक्षक पी/एम एवं पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता नीलेश आनंद भरणे ने बताया कि हल्द्वानी के बनभूलपुरा हिंसा और उपद्रव की घटना के मास्टर माइंड अब्दुल मलिक को नैनीताल पुलिस ने नई दिल्ली से गिरफ्तार किया है। पुलिस महानिदेशक अभिनव कुमार ने पुलिस टीम को 50 हजार के इनाम की घोषणा की है।

यह था मामला-

बीती आठ फरवरी का उत्तराखंड के हल्द्वानी के बनभूलपुरा वो खतरनाक मंजर कोई शायद ही भूल पाएगा। हल्द्वानी स्थित बनभूलपुरा में कथित मलिक के बगीचे अवैध रूप से निर्मित मदरसे को ढहाने के बाद बीती आठ फरवरी को इलाके में हिंसा भड़क गई थी। स्थानीय निवासियों ने नगर निगम के कर्मियों व पुलिस पर पथराव, अन्य तरह की वस्तुओं से हमला किया था और पेट्रोल बम फेंके थे। इस कारण कई पुलिसकर्मियों को एक थाने में शरण लेनी पड़ी थी, जिसे भीड़ ने बाद में आग के हवाले कर दिया था। पुलिस के अनुसार, इस हिंसा में चार लोगों की मौत हुई थी और पुलिस एवं पत्रकारों सहित 100 से अधिक लोग घायल हुए थे। दो अन्य युवकों की मौत का कारण अलग था। इसका खुलासा पुलिस ने कर दिया है। हिंसक घटना में बनभूलपुरा थाने पर तीन अभियोग 21/2024, 22/2024 व 23/2024 दर्ज किए गए थे।

बरेली-उत्तर प्रदेश के हैं मुख्य आरोपित, उत्तराखंड में रचा षड्यंत्र-

सहायक नगर आयुक्त हल्द्वानी गणेश भट्ट का आरोप है कि मास्टर माइंड अब्दुल मलिक पुत्र स्व. अब्दुल रज्जाक, साफिया मलिक पत्नी अब्दुल मलिक, अख्तरी बेगम पत्नी नन्हें खां, नवी रजा खां पुत्र अशरफ खां, गौस रजा खां पुत्र स्व. अशरफ खां निवासी हल्द्वानी नैनीताल, अब्दुल लतीफ निवासी बरेली-उत्तर प्रदेश ने बनभूलपुरा में कंपनी बाग स्थित लीज भूखंड संख्या-368 रकवई 13बी. 3 वि. वाके की भूमि पर षड्यंत्र करते हुए मृत व्यक्ति के नाम का उपयोग कर अवैध निर्माण, अवैध हस्तांतरण करने का कार्य किया है। यही नहीं, आपराधिक षड्यंत्र रचकर राजकीय विभागों एवं झूठे शपथ पत्रों के आधार पर न्यायालय को गुमराह करने का कार्य किया है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.