Bharat Jodo Nyay Yatra: राहुल गांधी की न्याय यात्रा दोपहर बाद उप्र में करेगी प्रवेश, तैयारी में जुटे पदाधिकारी

Bharat Jodo Nyay Yatra: राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ शुक्रवार को दोपहर बाद बिहार से चंदौली के नौबत में उत्तर प्रदेश में प्रवेश कर जाएगी।
Rahul Gandhi
Rahul Gandhiraftaar.in

लखनऊ, (हि.स.)। राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ शुक्रवार को दोपहर बाद बिहार से चंदौली के नौबत में उत्तर प्रदेश में प्रवेश कर जाएगी। इसके लिए प्रदेश भर के पदाधिकारी सुबह से ही तैयारी में जुट गये हैं।

ये नेता करेंगे राहुल गांधी का स्वागत

उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी और राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय राय, उत्तर प्रदेश में भारत जोड़ो न्याय यात्रा के संयोजक वरिष्ठ नेता पी. एल. पुनिया, सह संयोजक आराधना मिश्रा मोना आदि स्वागत तैयारियों में जुटे हुए हैं।

यात्रा के स्वागत की तैयारी को पूरा कर लिया गया है

कांग्रेस प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने बताया यात्रा के स्वागत की तैयारी को पूरा कर लिया गया है। उत्तर प्रदेश में हमारे कार्यकर्ता राहुल गांधी के और भारत जोड़ो न्याय यात्रा के स्वागत के लिए काफी उत्साहित हैं। चंदौली और वाराणसी में स्वागत के लिए कार्यकर्ता आ रहें हैं। भारत जोड़ो न्याय यात्रा बिहार से उत्तर प्रदेश में जनपद चंदौली की सीमा से शुक्रवार अपरान्ह प्रवेश करेगी और कल 17 फरवरी को वाराणसी पहुंचेगी, भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान राहुल गांधी तमाम अलग-अलग प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों से मुलाकात करेंगे।

इन्हीं मुद्दों को कांग्रेस लोकसभा चुनाव में लेकर जाने वाली है

अंशू अवस्थी ने कहा कि भारत जोड़ो न्याय यात्रा में कांग्रेस ने पांच स्तभों और मुद्दों को फोकस किया है, यह हैं किसान न्याय, युवा न्याय, भागीदारी न्याय, नारी न्याय और श्रमिक न्याय, इन्हीं मुद्दों को कांग्रेस के लोकसभा चुनाव में लेकर जाने वाली है।

अगर सत्ता पक्ष है तो विपक्ष का होना भी बहुत ही जरुरी है। जिससे विपक्ष सत्ता पक्ष की गलतियों को बता सके। लेकिन विपक्ष को भी सत्ता पक्ष के सही से हो रहे कामो में आलोचना करके जनता को गुमराह करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। वहीं सत्ता पक्ष को भी विपक्ष की मान्य मांगो को मानना चाहिए और अपने कार्यों में सुधार करना चाहिए। इसमें कोई बुराई नहीं है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.