UP News: यूपी पुलिस भर्ती में सेंधमारी मामले में STF को मिली बड़ी सफलता, बागपत और गाजियाबाद से 12 लोग गिरफ्तार

UP News: किसी भी पद के लिए भर्ती परीक्षा बहुत ही महत्वपूर्ण होती है। अगर इसमें भी घोटाला किया जाता है तो इसका बुरा असर देश को झेलना पड़ता है।
यूपी पुलिस कम्प्यूटर ऑपरेटर भर्ती परीक्षा में सेंधमारी करने वाले आरोपी
यूपी पुलिस कम्प्यूटर ऑपरेटर भर्ती परीक्षा में सेंधमारी करने वाले आरोपी raftaar.in

उत्तर प्रदेश, (हि.स.)। किसी भी पद के लिए भर्ती परीक्षा बहुत ही महत्वपूर्ण होती है। अगर इसमें भी घोटाला किया जाता है तो इसका बुरा असर देश को झेलना पड़ता है। साथ ही ईमानदार और योग्य उम्मीदवार का मनोबल भी गिरता है। ऐसे ही घोटालों को रोकने के लिए प्रदेश की योगी सरकार सख्त है।

दोनों गिरोह को मिलाकर अब तक 23 आरोपियों को गिरफ्तार किया है

यूपी की योगी सरकार की पुलिस को यूपी पुलिस कम्प्यूटर ऑपरेटर भर्ती परीक्षा में सेंधमारी करने के मामले में बड़ी कामयाबी मिली है। यूपी पुलिस की मेरठ एसटीएफ यूनिट ने भर्ती में सेंधमारी करने वाले गिरोह के 12 लोगो को गाजियाबाद और बागपत से गिरफ्तार किया है। बुधवार रात बुलंदशहर कोतवाली देहात पुलिस ने भी उत्तर प्रदेश समेत कई प्रतियोगिता परीक्षा पास कराने और फर्जी दस्तावेज बनाने वाले गिरोह के 11 लोगो को गिरफ्तार किया है। दोनों गिरोह को मिलाकर अब तक 23 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

गिरोह एक परीक्षा पास कराने के लिए 5 से 6 लाख रुपये लेता था

उत्तर प्रदेश की मेरठ यूनिट की एसटीएफ ने इस परीक्षा में सेंधमारी करने वाले गिरोह के 12 लोगो को बड़ौत में आवास विकास कॉलोनी और गाजियाबाद में विधान पब्लिक स्कूल दुहाई से गिरफ्तार किया। खुलासा हुआ कि यह गैंग कंप्यूटर लैब के कंप्यूटर को एनी-डेस्क की मदद से हैक करने के बाद नकल कराता था। गिरोह में सीआरपीएफ का एक जवान भी शामिल है, जो फरार बताया गया है। गिरोह एक परीक्षा पास कराने के लिए 5 से 6 लाख रुपये लेता था। इसके लिए एक इंटरनेशनल हैकर को काम दिया गया था, जो फरार है। बड़ौत कोतवाली में आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कराया गया है

सभी पर मुकदमा दर्ज किया गया है

दूसरी ओर, बुलंदशहर में एसपी सिटी शंकर प्रसाद ने गुरुगुवार को पुलिस लाइन में प्रेसवार्ता में खुलासा किया कि यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा और कई अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में नकल कराने वाले गैंग का इनपुट मिला था। बुधवार रात जहांगीराबाद बस स्टैंड के पास से गिरोह के 8 सदस्यों और तीन अभ्यर्थियों को गिरफ्तार किया गया। पकड़े गए आरोपियों के पास से उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती प्रोन्नति बोर्ड से संबंधित 37 एडमिट कार्ड और सात एप्लीकेशन फार्म की छायाप्रति, 11 मोबाइल फोन, लैपटॉप, थम्ब स्कैनर, 4500 रुपये, दो मुहर, फर्जी आधार कार्ड आदि बरामद हुआ है। सभी पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.