Mission 2024: मायावती ने पश्चिमी यूपी में चला बड़ा दांव, BJP और RLD की बढ़ी मुश्किलें, जानें इस सीट का समीकरण

UP News: उतर प्रदेश के लोकदल को बड़ा झटका लगा है। दरअसल पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव चौधरी विजेंद्र सिंह ने अचानक से पार्टी को लोकसभा चुनाव 2024 से पहले छोड़ कर सबको हैरान कर दिया है।
Mayawati Devi and Jayant Chaudhary
Mayawati Devi and Jayant Chaudharyraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। उतर प्रदेश के लोकदल को बड़ा झटका लगा है। दरअसल पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव चौधरी विजेंद्र सिंह ने अचानक से पार्टी को लोकसभा चुनाव 2024 से पहले छोड़ कर सबको हैरान कर दिया है। इससे पहले वह लोकदल के प्रसार में जुटे हुए थे। उन्होंने लोकदल को छोड़कर BSP को ज्वाइन कर लिया है। उन्होंने मंगलवार को BSP में शामिल होने की घोषणा बिजनौर के शहनाई बैंक्वट हाल में कार्यकर्ता सम्मेलन में की। इस कार्यकर्ता सम्मलेन में BSP के पश्चिम उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड प्रभारी शमशुद्दीन राइन ने चौधरी विजेंद्र सिंह के BSP की सदस्यता लेने की घोषणा की है।

चौधरी विजेंद्र सिंह को बिजनौर लोकसभा प्रत्याशी बनाए जाने की घोषणा की: BSP

चौधरी विजेंद्र सिंह पिछले 4 महीनो से लोकदल में राष्ट्रीय महासचिव के रूप में पार्टी के प्रचार और प्रसार की कमान संभाले हुए थे। उन्होंने अचानक से मंगलवार को BSP में शामिल होने की घोषणा बिजनौर के शहनाई बैंक्वट हाल में कार्यकर्ता सम्मेलन में की। BSP के कार्यक्रम में बसपा पश्चिमी उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड प्रभारी शमशुद्दीन राईन ने बताया कि BSP की प्रमुख मायावती ने चौधरी विजेंद्र सिंह को बिजनौर लोकसभा प्रत्याशी बनाए जाने की घोषणा की है। उन्होंने आगे कहा कि बहन जी सबसे पहले बिजनौर सीट से जीत दर्ज करके संसद पहुंची थी। चौधरी विजेंद्र सिंह ने अपने अस्पतालों व शिक्षण संस्थानों के माध्यम से जनता की सेवा की है। जिसको देखते हुए बहन मायावती ने उन्हें बिजनौर लोकसभा प्रत्याशी बनाने का फैसला लिया है।

BSP के पदाधिकारियों से लेकर कार्यकर्ताओं ने उनका पार्टी में स्वागत किया

BSP एक दो दिन में चौधरी विजेंद्र सिंह को बिजनौर सीट से लोकसभा सीट का टिकट देने की घोषणा कर सकती है। BSP के पदाधिकारियों से लेकर कार्यकर्ताओं ने उनका पार्टी में स्वागत किया। जिलाध्यक्ष दलीप कुमार ने यह जानकारी दी थी कि एक दो दिन में पार्टी प्रमुख बहन मायावती उन्हें लोकसभा टिकट दे देंगी। वहीं चौधरी विजेंद्र सिंह ने कहा कि किसान, मजदूर, गरीब सभी पिछड़ी जातियों समेत शोषित और वंचितों को उनका हक दिलाने का कार्य करेंगे।

BJP और RLD के गठबंधन को लेकर जीत पक्की समझी जा रही थी

वहीं BJP और RLD के गठबंधन को लेकर जीत पक्की समझी जा रही थी। दोनों के गठबंधन के तहत रालोद विधायक चंदन चौहान को बिजनौर सीट से प्रत्याशी घोषित किया गया था। चौधरी विजेंद्र सिंह की नजर भी जाट वोटों को साधने की थी, जो कि लोकदल को जीत दिलाने के मकसद से कार्य कर रहे थे। लेकिन भाजपा के साथ गठबंधन के बाद इस सीट का समीकरण बदल जाने के कारण चौधरी विजेंद्र सिंह ने अपनी राह बदल ली और BSP को ज्वाइन कर लिया। अब जब BSP ने चौधरी विजेंद्र सिंह को बिजनौर सीट से प्रत्याशी बना दिया है तो वहां भाजपा और RLD के गठबंधन का BSP के बीच वोटों का घमासान होने की संभावना है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.