UP Budget: 1 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनमी के लक्ष्य को हासिल करने के लिए आगे बढ़ेगा UP: सुरेश खन्ना

Lucknow: उत्तर प्रदेश विधानसभी में आज वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने बजट पेश करते हुए कहा कि "वर्ष 2024-25 योगी सरकार का बजट राज्य के लोगों के लिए समृद्धि लाएगा।"
UP FM Suresh Khanna
UP FM Suresh KhannaRaftaar.in

लखनऊ, हि.स.। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पेपरलेस बजट नए उत्तर प्रदेश में रामराज्य की आधारशिला बनेगा। दरअसल, उत्तर प्रदेश के बजट 2024-25 के सदन में प्रस्तुत होने के पूर्व सोमवार को सुबह वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भेंट हुई। इसके बाद मुख्यमंत्री ने सोशल मीडिया एक्स पर लिखा- आज सदन में उनके द्वारा प्रस्तुत किया जाने वाला पेपरलेस बजट नए उत्तर प्रदेश में रामराज्य की आधारशिला बनेगा। जय श्रीराम!

राज्य के लोगों के लिए समृद्धि लाएगा ये बजट: सुरेश खन्ना

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि वर्ष 2024-25 योगी सरकार का बजट राज्य के लोगों के लिए समृद्धि लाएगा। यह विकास को गति देगा और वन ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के लक्ष्य को हासिल करने के लिए आगे बढ़ेगा। हम चुनाव के लिए हमेशा तैयार हैं। हर क्षेत्र की जरूरतों के हिसाब से उसका ख्याल रखा गया है। इससे पहले वित्त मंत्री ने लखनऊ में अपने आवास पर पूजा-अर्चना की। इसके बाद सोशल मीडिया एक्स पर लिखा- सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामया। सर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चित् दुःखभाग् भवेत्।। वर्ष 2024-25 के बजट प्रस्तुति के पूर्व आराध्य से सभी के मंगल की कामना की।

प्रदेश का शासन रामराज्य की अवधारणा से अनुप्रेरित

उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने सोमवार को विधान सभा में बजट भाषण करते हुए कहा कि हमारे प्रदेश का शासन रामराज्य की अवधारणा से अनुप्रेरित है। आज उत्तर प्रदेश सामाजिक-सांस्कृतिक, आर्थिक एवं आध्यात्मिक उन्नति की ओर अग्रसर है। वित्त मंत्री ने कहा कि यदि हम किसी समाज-संस्कृति में उच्चतम आदर्शों की कल्पना करें तो रामराज्य की संकल्पना के बाहर नहीं जाया जा सकता है। समाज में परस्पर सहयोग एवं विश्वास, न्याय आधारित सुशासन, अपराध शून्यता तथा वर्गभेद का पूर्ण अभाव, धर्मानुकूल आचरण को रामराज्य की प्रमुख विशेषताओं के रूप में निरूपित किया जा सकता है।

अयोध्या विश्व का बहुत बड़ा पर्यटन केन्द्र बना

मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम का जीवन हजारों वर्षों से भारत और विश्व को महत्तर जीवन आदर्शों की ओर अग्रसर होने को प्रेरित करता रहा है। पिता के वचन का मान रखने के लिये समस्त राजसी वैभव को निःसंकोच त्याग कर वनवास के लिये प्रस्थान करना और दुष्टों और अधर्मियों का दृढ़तापूर्वक दलन करना ऐसे राजधर्म का अनुपम उदाहरण कहीं और नहीं मिलता। मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम जी के भव्य मन्दिर का अयोध्या में निर्माण होने से हमारे सामाजिक और सांस्कृतिक क्षेत्र को बहुत प्रोत्साहन मिला है।

सुरेश खन्ना ने कहा कि अयोध्या विश्व का बहुत बड़ा पर्यटन केन्द्र बन गया है, यहां पर भारत और विदेश से आने वाले पर्यटकों की संख्या में बहुत बड़ा इजाफा हुआ है, जिससे हमारी आर्थिक स्थिति को बढ़ावा मिलेगा।

सबका साथ-सबका विकास‘ नारे को चरितार्थ किया

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बजट भाषण करते हुए कहा कि हमने प्रधानमंत्री के ‘सबका साथ-सबका विकास‘ नारे को चरितार्थ किया है। साथ ही हमारी नीतियां विशेष रुप से युवा, महिला, किसान व गरीबों के उत्थान को समर्पित हैं। यह तथ्य सभी को ज्ञात है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व में प्रदेश में कानून व्यवस्था में अभूतपूर्व सुधार हुआ है।
इसके साथ ही, अवस्थापना और कनेक्टिविटी में उल्लेखनीय सुधार एवं विस्तार के फलस्वरूप वर्ष 2023 में संपन्न ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट के माध्यम से 40 लाख करोड़ रूपये से अधिक के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए जिनसे 1.10 करोड़ लोगों को रोजगार मिलेगा।

"ईज ऑफ डूइंग बिजनेस" की रैंकिंग में आज देश में दूसरे स्थान पर यूपी

प्रदेश में संगठित अपराध का सफाया हो चुका है और औद्योगिक क्षेत्र तीव्र गति से आगे बढ़ रहा है। प्रदेश में एम0एस0एम0ई0 की 96 लाख इकाईया हैं। आज प्रदेश के उद्यमियों द्वारा लगभग 2 लाख करोड़ रूपये का निर्यात किया जा रहा है। "ईज ऑफ डूइंग बिजनेस" की रैंकिंग में प्रदेश जो पहले 14वें स्थान पर हुआ करता था आज देश में दूसरे स्थान पर है। आज उत्तर प्रदेश भारत का अग्रणी विकासशील प्रदेश बन चुका है।

अखिलेश यादव ने बजट पर भाजपा को घेरा

समाजवादी पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने बजट से पहले ही भाजपा सरकार घेरा और कई सवाल पूछे हैं। उन्होंने सोमवार को 'एक्स' के जरिए योगी सरकार से सवाल किया है कि उत्तर प्रदेश का बजट चाहे 7 लाख करोड़ का हो या 8 लाख करोड़ का… सवाल यही रहेगा कि 90 प्रतिशत जनता के लिए मतलब 'पीडीए' के लिए उसमें क्या है?

भाजपा की नीति आम जनता विरोधी

उन्होंने कहा कि भाजपा की नीति आम जनता विरोधी है, वह 10 प्रतिशत संपन्न लोगों के लिए 90 प्रतिशत बजट रखती है और 90 प्रतिशत ज़रूरतमंद जनता के लिए केवल नाममात्र का 10 प्रतिशत बजट। साथ ही क्षतिग्रस्त सड़क की फोटो पेास्ट कर लिखा है कि ऐसी सड़क कैसे चले बेधड़क।
उन्होंने कहा है कि उप्र की भाजपा सरकार आंकड़ों में न उलझाए, सीधी बात ये बताए कि इस बजट से महंगाई से कितनी राहत मिलेगी। ⁠कितने युवाओं को रोज़गार मिलेगा, ⁠सही में अपराध और भ्रष्टाचार कम करने के उपायों पर कितना खर्च किया जाएगा। ⁠मंदी और जीएसटी की मार झेल रहे काम-कारोबार और दुकानदारी को बढ़ावा देने के लिए क्या प्रावधान है।

इन मुद्दों का किया उल्लेख

उन्होंने पूछा है कि इस बजट में ⁠किसान की बोरी की चोरी रुकेगी या नहीं, फ़सल का सही दाम व किसानों की आय दुगुनी होगी या नहीं,⁠ मजदूर-श्रमिक को मेहनत की सही क़ीमत मिलेगी या नहीं, महिलाओं को बेख़ौफ़ घर से निकलने की आज़ादी देने के लिए अपराधियों पर नियंत्रण के लिए जगह-जगह सीसीटीवी लगेंगे या नहीं, ⁠कर्मचारियों को पुरानी पेंशन मिलेगी या नहीं, ⁠अच्छी दवाई, पढ़ाई लिए कितना आबंटन है,⁠ पानी घर पहुंचाने और शौचालयों को सुचारू रूप से चलाने की योजना के लिए दिखावटी प्रावधान कितना है, ⁠और हां गोरखपुर में बरसात में नाव चलाने व गोरखपुरवासियों को तैरने का मुफ़्त प्रशिक्षण देने के लिए कितना प्रावधान किया गया है।

बिजली, सड़क में क्या है प्रावधान?

इसके अलावा नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने पूछा है कि बिजली के नए प्लांटों के लिए कितना बजट है, ⁠नई सड़कें तो छोड़िए, बस इतना और बता दें कि सड़कों के गड्ढे भरने का बजट में कोई प्रावधान है या नहीं? झूठे दावों के दिखावटी प्रचार के लिए आपकी भाजपा सरकार ने कितना प्रावधान किया है कृपया इसकी मोटी फाइल अलग से जनता के सामने रखें।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.