Indian Railways: PM मोदी आज 'अमृत भारत स्टेशन योजना' के तहत गोमती नगर रेलवे स्टेशन की राष्ट्र को देंगे सौगात

Lucknow: PM नरेन्द्र मोदी आज वर्चुअली गोमती नगर रेलवे स्टेशन की राष्ट्र को सौगात देंगे। PM मोदी इस दिन ही अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत सुंदरीकरण हुए रेलवे स्टेशनों को भी देशवासियों को सौंपेगे।
PM Modi
PM ModiRaftaar.in

लखनऊ, हि.स.। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वर्चुअल के माध्यम से लखनऊ को गोमती नगर रेलवे स्टेशन की सौगात देंगे। आज 385 करोड़ की लागत से बने गोमती नगर रेलवे स्टेशन की शुरुआत हो जायेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस दिन ही अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत सुंदरीकरण हुए रेलवे स्टेशनों को भी देशवासियों को सौंपेगे।

प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी ने की थी पहल

गोमती नगर हाल्ट से बड़े रेलवे स्टेशन बनने के सफर की शुरुआत तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी ने की थी। इसके बाद अभी 21 मई सन् 2018 में रेल भूमि विकास प्राधिकरण (आरएलडीए) ने स्टेशन निर्माण कार्य को आरम्भ किया। करीब 4 वर्षो के भीतर गोमती नगर रेलवे स्टेशन को तैयार कर लिया गया।

गोमती नगर रेलवे स्टेशन एक बड़े स्टेशन के रुप में पहचाना जायेगा

रेलवे स्टेशन पर पहले दो प्लेटफार्म हुआ करते थे, बाद में चार प्लेटफार्म किये गये। अभी गोमती नगर के कार्मिशियल क्षेत्र विभूतिखंड को जोड़ने के लिए छह प्लेटफार्म कर दिये गये है। अब गोमती नगर रेलवे स्टेशन एक बड़े स्टेशन के रुप में पहचाना जायेगा। जहां से विभिन्न स्थानों को जोड़ने वाली ट्रेनों का संचालन होगा।

अमृत भारत स्टेशन योजना

पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक, डीआरएम सहित तमाम अधिकारी आगामी आज रेलवे स्टेशन के लोकार्पण कार्यक्रम की तैयारी कर रहे है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस दिन ही अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत सुंदरीकरण हुए रेलवे स्टेशनों को भी देशवासियों को सौंपेगे। साथ ही गोमती नगर रेलवे स्टेशन का लोकार्पण करेंगे।

PM मोदी ने कई ट्रेनों का भी किया उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को वंदे भारत, नमो भारत और कई शहरों में मैट्रों का नेटवर्क बढ़ाया। रेलवे नेटवर्क देश का सबसे बड़ा नेटवर्क है। बीते सालों में प्रधानमंत्री मोदी ने ट्रेन के साथ-साथ रेलवे स्टेशन के विकास को भी महत्व दिया है। लखनऊ में गोमती रेलवे स्टेशन बनने से लखनऊ रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों के यातायात पर भी जाम कम लगेगा।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.