प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत, निषाद समाज की दो महिलाओं को बृहद मत्स्य आहार मील लगाने की दी संस्तुति

UP News: केन्द्र की मोदी एवं प्रदेश की योगी सरकार निषाद समाज की समृद्धि के लिए लगातार प्रयास कर रही है।
Yogi Adityanath and Narendra Modi
Yogi Adityanath and Narendra Modiraftaar.in

कानपुर,(हि.स.)। केन्द्र की मोदी एवं प्रदेश की योगी सरकार निषाद समाज की समृद्धि के लिए लगातार प्रयास कर रही है। प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत कानपुर नगर की निषाद समाज की दो महिलाओं को कारोबार करने के लिए बृहद मत्स्य आहार मिल लगाने की संस्तुति दी है। योजना के तहत प्रत्येक महिला को एक करोड़ बीस लाख रुपये का अनुदान केन्द्र सरकार देगी। यह जानकारी कानपुर मंडल उपनिदेशक मत्स्य सुनीता वर्मा ने मंगलवार को जानकारी दी।

निषाद समाज की दो बेटियों को कारोबार करने लिए केन्द्र सरकार ने संस्तुति दे दी है

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत वृहद मत्स्य आहार मिल लगाने के लिए कानपुर मंडल में निषाद समाज की दो बेटियों को कारोबार करने लिए केन्द्र सरकार ने संस्तुति दे दी है। बृहद मत्स्य आहार मिल लगाने के लिए दो करोड़ की लागत आएगी। केन्द्र सरकार लागत का 60 प्रतिशत का अनुदान देगी।

बृहद मत्स्य आहार तैयार हो जाने के बाद इसमें प्रतिदिन 20 टन उत्पादन होगा

उन्होंने बताया कि बृहद मत्स्य आहार तैयार हो जाने के बाद इसमें प्रतिदिन 20 टन उत्पादन होगा। हालांकि अभी संस्तुति ही मिली है। लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि लाभार्थी को पहले मत्स्य विभाग उत्तर प्रदेश एवं औद्योगिक इकाइयों को मानक पूरा करने के साथ पहले अपनी लागत लगाकर निर्माण कार्य शुरू करेगा। इसके बाद जब मत्स्य विभाग निर्माण कार्य से संतुष्टि पत्र और जिला प्रशासन की स्थानीय इकाइयों से विभिन्न मानकों की पूर्ति एवं अन्य सभी सरकारी दस्तावेज तैयार करके केन्द्र सरकार को भेजना होगा। उसके बाद ही लाभार्थी को इसका अनुदान लाभार्थी के खाते में सरकार देगी।

एक लाभार्थी का नाम अर्चना देवी और दूसरे का नाम सरिता निषाद है

कानपुर नगर में वृहद मत्स्य आहार मिल की एक लाभार्थी का नाम अर्चना देवी और दूसरे का नाम सरिता निषाद है। कार्य शुरू करने से पूर्व अभी जिले के अधिकारियों के माध्यम से स्थल का निरीक्षण सहित अन्य सरकारी कार्रवाई करना पड़ेगा।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.