UP Police Constable Exam: पुलिस कांस्टेबल परीक्षा मामले में जांच कमेटी गठित, पेपर लीक की होगी पूरी इंक्वायरी

उत्तर प्रदेश में पुलिस कांस्टेबल के लिए 17 और 18 फरवरी परीक्षा का आयोजन किया गया था। इस दौरान पेपर लीक को लेकर अफवाह फैली थी। जिसके बाद बोर्ड अध्यक्ष ने पेपर लीक मामले में एक जांच कमेटी का गठन किया है
UP police constable exam leaked
UP police constable exam leakedSocial media

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती परीक्षा 2024: उत्तर प्रदेश में पुलिस कांस्टेबल की 60 हजार से अधिक पदों की निकली भर्ती के लिए 17 और 18 फरवरी को परीक्षा का आयोजन किया गया था। परीक्षा के बाद सोशल मीडिया पर पेपर लीक होने की खबर वायरल हुई। इसके बाद परीक्षार्थियों में आक्रोश देखा गया। वहीं इस पूरे मामले पर बोर्ड अध्यक्ष रेणुका मिश्रा का कहना है कि किसी भी तरह का पेपर लीक नहीं हुआ यह सभी खबरें फर्जी हैं। इसकी इंटरनल जांच के लिए एक कमेटी गठित की गई है। बोर्ड का कहना है कि 48 लाख बच्चों के भविष्य का सवाल है हम खिलवाड़ नहीं होने देंगे।

मामले की होगी निष्पक्ष जांच

बोर्ड अध्यक्ष रेणुका मिश्रा का कहना है कि वायरल खबर पर ध्यान ना दें यह अफवाहें हैं। अध्यक्ष ने कहा है कि सभी वायरस चीज हमारे पास एकत्रित हैं। जो सवाल वायरल हुए हैं जो क्वेश्चन पेपर में आए हैं। वह पहले लीक हुए हैं बाद में लीक हुए हैं। या फिर परीक्षा के दौरान लीक हुए हैं। इसके लिए निष्पक्ष जांच की जाएगी। हमने एक इंटरनल कमेटी का गठन किया है। किसी के साथ भी अन्याय नहीं होने देंगे। और जो लोग भी इसमें लिप्त पाए जाएंगे। उन पर कार्यवाही की जाएगी।

पुलिस ने पकड़े कई गिरोह

जानकारी के मुताबिक 17 और 18 फरवरी को पुलिस कांस्टेबल की परीक्षा के दौरान यूपी के कई जिलों में मुन्नाभाई पकड़े गए। जहां फिरोजाबाद पुलिस ने गिरोह के 20 लोगों को पकड़ा। इसमें यूपी पुलिस के दो सिपाही भी शामिल हैं। वहीं दूसरे जिले से पुलिस ने ऐसे लोगों को भी गिरफ्तार किया है। जो दूसरे की जगह पर परीक्षा देने आए थे। इससे पहले 16 फरवरी को गाज़ीपुर पुलिस ने एक गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए आठ लोगों को गिरफ्तार किया था।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें- Hindi News Today: ताज़ा खबरें, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, आज का राशिफल, Raftaar - रफ्तार:

Related Stories

No stories found.