UP News: अखिलेश यादव की नसीहत के बावजूद स्वामी ने दिया विवादित बयान, "हिंदू धर्म को बताया धोखा"

Swami Prasad Maurya News: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष का अपनी पार्टी के नेताओं को चेतावनी के बावजूद, स्वामी प्रसाद मौर्य ने एक बार फिर से हिन्दू धर्म को लेकर अपमानजनक बयान दिया है।
Akhilesh Yadav and Swami Prasad Maurya
Akhilesh Yadav and Swami Prasad Mauryaraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष का अपनी पार्टी के नेताओं को चेतावनी के बावजूद, 24 घंटे बाद ही उनकी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने एक बार फिर से हिन्दू धर्म को लेकर अपमानजनक बयान दिया है। उन्होंने अपने बयान में हिन्दू धर्म को एक धोखा बता डाला। अपने आपत्तिजनक बयान को सही ठहराते हुए, मौर्य ने कहा कि जब भी वह इस तरह की बात करते हैं तो लोगो की भावनाएं आहत हो जाती हैं। लेकिन जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मोहन भागवत ऐसी बात करते हैं तो कही कुछ विरोध नहीं होता है।

बयान को सही ठहराने के लिए उदाहरण गिनाये

स्वामी प्रसाद मौर्य ने यह आपत्तिजनक बयान एक जनसभा को संबोधित करते हुए दिया, जिसमे उन्होंने हिन्दू धर्म को धोखा बताया और अपने बयान को सही ठहराने के लिए माननीय सर्वोच्च न्यायालय, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत और नरेंद्र मोदी के बयानों का उदाहरण दिया। उन्होंने माननीय सर्वोच्च न्यायालय के 1995 के आदेश का उदाहरण देते हुए कहा कि कोर्ट ने अपने आदेश में हिन्दू को धर्म नहीं माना था, बल्कि जीवन जीने की शैली बताया था। मौर्य ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को हिन्दू धर्म का ठेकेदार बताते हुए कहा कि भागवत ने एक बार नहीं बल्कि दो बार हिन्दू धर्म को धर्म नहीं माना था, बल्कि जीवन जीने की शैली बताया था। मौर्य ने देश के पीएम नरेंद्र मोदी का भी उदाहरण देते हुए कहा कि मोदी जी ने भी हिन्दू धर्म को धर्म नहीं है कहने की बात कही थी।

तब इनकी भावनाएं आहत नहीं होती है: स्वामी प्रसाद मौर्य

स्वामी प्रसाद मौर्य अपने आपत्तिजनक बयान में हिन्दू धर्म को धोखा तो बताते ही हैं और कुछ लोगो के लिए इसे धंधा भी बता डालते हैं। वह कहते हैं कि उनके द्वारा हिन्दू धर्म के लिए बयान देना लोगो की भावनाओं को आहत पहुंचाने वाला हो जाता है और ऐसी ही बात मोहन भागवत, नरेंद्र मोदी जी और गडकरी जी कहते हैं तो इनकी भावनाएं आहत नहीं होती है।

स्वामी प्रसाद मौर्य पहले भी दे चुके हैं ऐसे विवादित बयान

स्वामी प्रसाद मौर्य ने पहली बार ऐसे विवादित बयान नहीं दिए हैं, बल्कि वह पहले भी ऐसे विवादित बयान दे चुके हैं। इससे पहले भी उन्होंने हिन्दू धर्म, माता लक्ष्मी और रामचरितमानस पर आपत्तिजनक बयान दिए हैं। उन्होंने माता लक्ष्मी को लेकर एक विवादित बयान में कहा था कि दुनिया में कही भी चार हाथ वाले बच्चे पैदा नहीं होते हैं तो माता लक्ष्मी कैसे हो गई। इससे पहले उन्होंने हरदोई में कहा था कि जिसको आप हिन्दू राष्ट्र कहते हो वह भारत राष्ट्र शापित है। यह भारत कभी न हिन्दू राष्ट्र था, न है और न रहेगा। उन्होंने हिन्दू राष्ट्र की मांग करने वालो को देशविरोधी बता डाला था।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.