dairy-technology-and-food-technology-btech-course-started-in-bhu
dairy-technology-and-food-technology-btech-course-started-in-bhu

बीएचयू में डेयरी प्रौद्योगिकी एवं खाद्य प्रौद्योगिकी बीटेक कोर्स की शुरूआत

-डेयरी एवं खाद्य उद्योग में कुशल स्नातकों की मांग देख पहल वाराणसी, 29 जून (हि.स.)। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के दुग्ध विज्ञान एवं खाद्य प्रौद्योगिकी विभाग, कृषि विज्ञान संस्थान में डेयरी प्रौद्योगिकी एवं खाद्य प्रौद्योगिकी दोनों विषयों में चार वर्षीय बीटेक कोर्स इसी सत्र 2021-22 से प्रारम्भ होगा। मंगलवार को ये जानकारी संस्थान के विभागाध्यक्ष प्रो.डीसी राय ने दी। उन्होंने बताया कि दोनों अभिनव एवं व्यवसायिक कोर्स, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा संस्तुत पाठ्यक्रम एवं दिशा निर्देश के अनुसार संचालित होगें। ताकि छात्रों को उनकी डिग्री की उचित मान्यता प्राप्त हो और आगे की कक्षाओं में आसानी से प्रवेश मिल सकें। उन्होंने बताया कि इन दोनों व्यवसायिक पाठ्यकर्मों के शुरू होने से विश्वविद्यालय के कृषि विज्ञान संस्थान का स्थान देश में और भी ऊंचा हो जाएगा। इससे विश्वविद्यालय की गरिमा एवं रैंकिंग भी बढ़ेगी। देश में डेयरी एवं खाद्य उद्योग लगभग 20 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है। इन दोनों क्षेत्रों में कुशल स्नातकों की काफी मांग है। इन्हीं बातों की ध्यान में रखकर विभाग ने दोनों विषयों में बीटेक कोर्स शुरू करने के लिए आईसीएआर के दिशा-निर्देशों के अनुसार प्रस्ताव तैयार किया। जिसे गहन विचार विमर्श के बाद विभाग की बोर्ड आफ स्ट्डीज कमेटी ने स्वीकृत किया। ज्ञातव्य हो कि देश में कृषि शिक्षा के समस्त विषयों के लिए आईसीएआर पाठ्यक्रम और दिशा-निर्देश तैयार करके उसकी संस्तुति प्रदान करता है। उन्हीं दिशा-निर्देशों एवं पाठ्यक्रमों पर संचालित कोर्स को ही मान्यता प्राप्त होती है। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के कृषि विज्ञान संस्थान को आईसीएआर उत्कृष्ठ संस्थान का दर्जा प्रदान किया है। प्रो.राय ने बताया कि इन पाठ्यक्रमों में प्रवेश-परीक्षा से ही प्रवेश होगा और प्रत्येक पाठ्यक्रम में 30 सीट होगी। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर

Related Stories

No stories found.