Loksabha Election: पश्चिम यूपी के पहले चरण के चुनाव में भाजपा के लिए बड़ी चुनौती, बसपा-सपा ने चला ये दांव

Loksabha Election: लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर उत्तर प्रदेश में सारे सियासी दल तैयार हैं। यहां पहले चरण में 8 सीटों पर चुनाव होने हैं।
Mayawati Devi, Akhilesh Yadav, Yogi Adityanath, Rahul Gandhi and Jayant Choudhary
Mayawati Devi, Akhilesh Yadav, Yogi Adityanath, Rahul Gandhi and Jayant Choudharyraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर उत्तर प्रदेश में सारे सियासी दल तैयार हैं। यहां पहले चरण में 8 सीटों पर चुनाव होने हैं। इन सीटों में कांग्रेस और सपा ने गठबंधन कर रखा है। वहीं आरएलडी और बीजेपी ने भी गठबंधन कर रखा है। लेकिन यूपी की इन सीटों पर बीएसपी अकेले ही चुनाव लड़ रही है। पश्चिमी यूपी इन सभी दलों के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। इसी वजह से सभी राजनीतिक दल सोच समझकर अपने उम्मीदवारों को चुनने का कार्य कर रहे हैं। पश्चिमी यूपी की इनमे से 5 सीटों पर 2019 के चुनाव में बीएसपी और सपा के गठबंधन ने जीत दर्ज की थी।

यूपी के 8 सीटों पर नामांकन प्रक्रिया बुधवार से शुरू हो गयी है

लोकसभा चुनाव के पहले चरण में यूपी के 8 सीटों पर नामांकन प्रक्रिया बुधवार से शुरू हो गयी है, जो कि 27 मार्च तक चलेगी। पश्चिमी उत्तरप्रदेश में पहले चरण के चुनाव होने हैं। लोकसभा चुनाव 2014 और 2019 के आकड़े बताते हैं कि पश्चिमी यूपी से उठने वाली सियासी लहर पूर्वांचल के इलाके तक राजनीतिक फायदा देती है। इसलिए भाजपा से लेकर BSP तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश की इन सीटों पर अपनी जीत पक्का करना चाह रहे हैं। इसके लिए सभी दलों ने विचार विमर्श करके अपने अपने उम्मीदवार उतारने शुरू कर दिए हैं।

भाजपा के लिए भी खड़ी करी सपा और बसपा ने चुनौती

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पहले चरण के चुनाव 8 सीटों पर होने हैं। वर्ष 2014 में लोकसभा चुनाव में भाजपा ने इन सभी सीटों पर जीत दर्ज की थी। लेकिन वर्ष 2019 में भाजपा को पश्चिमी उत्तर प्रदेश के इन सीटों में से 5 सीटों का नुकसान हुआ था। इसका बड़ा कारण बसपा, सपा और आरएलडी का गठबंधन होना था। इस बार विपक्ष का हाल वर्ष 2014 की तरह लग रहा है। क्यूंकि भाजपा ने आरएलडी के साथ गठबंधन करके जाट समुदाय के वोटों को साधने की पूरी कोशिश कर ली है। इससे विपक्ष की मुश्किलें बढ़ती हुई दिखाई दे रही है। वहीं सपा और बसपा ने मुस्लिम बहुल सीटों पर हिन्दू उम्मीदवार उतारकर भाजपा के लिए सभी 8 सीटों पर जीत दर्ज करने में बहुत बड़ी मुश्किलें बढ़ा दी है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.