Indian Railways: अब ट्रेन में न होगा फोन चोरी नहीं बटुआ गायब, सुरक्षा-व्यवस्था होगी सख्त, लागू हुआ नया सिस्टम

Banda News: ट्रेनों में यात्रियों की सुरक्षा के लिए रात में ड्यूटी के दौरान सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मी सोने न पाए और उनके मूवमेंट पर निगरानी की जाए। इसके लिए यह नया सिस्टम लागू किया गया है।
Indian Railway Police
Indian Railway Police Raftaar.in

बांदा, हि.स.। ट्रेनों में यात्रियों की सुरक्षा के लिए रात में चलने वाले पुलिस कर्मियों की निगरानी के लिए उनसे वीडियो कॉल पर बीच-बीच में बात की जाएगी, ताकि वह सोने न पाए और एक बोगी से दूसरी बोगी में जाकर घूमते हुए यात्रियों की देखरेख कर सके। यह नया सिस्टम एडीजी के आदेश पर शुरू किया गया है। यह जानकारी पुलिस अधीक्षक रेलवे झांसी जोन विपुल कुमार श्रीवास्तव ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए दी। उन्होंने बताया कि शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक सभी ट्रेन एस्कॉर्टेड होती हैं। लेकिन ड्यूटी के दौरान सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मी सोने न पाए और उनके मूवमेंट पर निगरानी की जाए, इसके लिए यह नया सिस्टम लागू किया गया है।

अवैध वेंडर्स पर अंकुश लगाया जाएगा

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि ट्रेनों में चलने वाले अवैध वेंडर्स का सत्यापन कराया जाएगा। जिन वेंडर का जहां स्थान फिक्स है, वहीं पर उन्हें रहने के लिए कहा जाएगा। जो बिना वर्दी अवैध ढंग से घूम रहे हैं। उन वेंडर्स पर अंकुश लगाया जाएगा। उन्होंने बांदा रेलवे स्टेशन के बाहर अवैध पार्किंग के बारे में पूछें जाने पर बताया कि इसकी जानकारी कर इस बात की सख्त हिदायत दी जाएगी कि स्टेशन के बाहर किसी तरह से अवैध पार्किंग न होने पाए।

सुरक्षा व्यवस्था के साथ सफाई व्यवस्था पर भी दिया जाएगा ध्यान

इसके पहले उन्होंने बताया कि वर्तमान में अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा और आगामी 26 जनवरी गणतंत्र दिवस को देखते हुए शासन की निर्देश पर सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से प्लेटफार्म का निरीक्षण किया गया। साथ ही संबंधित थाना प्रभारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं। निरीक्षण के दौरान थाने में माल खाने, मेंस और बैरको का निरीक्षण किया गया। सफाई व्यवस्था का भी जायजा लिया गया। सफाई व्यवस्था संतोषजनक है लेकिन बहुत बेहतर नहीं है इसके लिए निर्देश दिए गए हैं।

ट्रेनों में हो रही चोरियों पर भी लगेगी लगाम

ट्रेनों में हो रही चोरियों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि बांदा क्षेत्र में अधिकांश ट्रेनों के भीतर मोबाइल, पर्स और बैग की चोरी हो रही है। यात्रियों से भी अपील है कि वह भी अपने सामान की सुरक्षा करें। बांदा जीआरपी एरिया में अपराध कम है, जो फिलहाल अपराध हुए हैं उनका खुलासा हो चुका है। एक दो लंबित विवेचनाएं हैं, जिनका निस्तारण करने के लिए निर्देशित किया गया है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.