15-officials-of-the-state-on-the-transport-commissioner39s-radar-for-indifference-against-daggamar-vehicles
15-officials-of-the-state-on-the-transport-commissioner39s-radar-for-indifference-against-daggamar-vehicles

डग्गामार वाहनों के खिलाफ उदासीनता बरतने पर प्रदेश के 15 अधिकारी परिवहन आयुक्त के रडार पर

लखनऊ, 19 मार्च (हि.स.)। प्रदेश में डग्गामार (अनधिकृत) वाहनों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में उदासीनता बरतने पर 07 सहायक संभागीय परिवहन अधिकारियों (एआरटीओ) और 08 यात्री कर अधिकारियों पर कार्रवाई की तलवार लटकने लगी है। ये सभी अधिकारी अब परिवहन आयुक्त के रडार पर है। परिवहन आयुक्त धीरज साहू ने प्रदेश के सभी संभागीय परिवहन अधिकारियों को 12 से 22 मार्च तक डग्गामार वाहनों के खिलाफ सख्त अभियान चलाए जाने का निर्देश दिया था। 12 से 15 मार्च के बीच महज 15 ऐसे अधिकारी संज्ञान में आए जिन्होंने 20 या इससे भी कम वाहनों का चालान किया है। इसे लेकर सभी अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा गया है। इनमें लखनऊ के सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी अमित राजन राय, गाजियाबाद के राघवेंद्र सिंह, संभल के अम्बरीश कुमार, मथुरा के लक्ष्मण प्रसाद, अमरोहा के अश्विनी कुमार राजपूत, हापुड़ के महेश कुमार शर्मा, प्रयागराज की अल्का आदि एआरटीओ शामिल हैं। इसके अलावा यात्री कर अधिकारियों में लखनऊ के रविचंद्र त्यागी, कुशीनगर के राजकुमार, अमरोहा के कृष्ण घनश्याम, मिर्जापुर के प्रमोद कुमार, प्रयागराज के विक्रांत सिंह, आजमगढ़ के राजेश सिंह कुशवाहा, मऊ के मानवेंद्र प्रताप सिंह और हापुड़ के मनोज कुमार गुप्ता सहित 15 अफसरों से स्पष्टीकरण मांगा गया है। परिवहन विभाग के इन 15 अधिकारियों को डग्गामार वाहनों के खिलाफ अभियान में उदासीनता बरतने पर चेतावनी देते हुए अपर परिवहन आयुक्त (प्रवर्तन) वीके सोनकिया को जवाब देने को कहा गया है। इसके साथ ही इन सभी अधिकारियों को 22 मार्च तक चलने वाले डग्गामार अभियान में ठोस कार्रवाई कर सूचना देने का आदेश भी दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक

Related Stories

No stories found.