Tamil Nadu के चार जिलों में भारी बारिश से बुरे हाल, सभी शिक्षण संस्थानों में सरकारी अवकाश घोषित

Tamil Nadu: तमिलनाडु के चार जिलों में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। मुख्यमंत्री ने इसके लिए पूरी टीम बनाकर लोगो की मदद के लिए अधिकारी नियुक्त किये हुए हैं।
Heavy Rain in Tamil Nadu
Heavy Rain in Tamil Naduraftaar.in

चेन्नई, (हि.स.)। तमिलनाडु के चार जिलों में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। राज्य सरकार ने स्थिति की गंभीरता को देखते हुए आज (सोमवार) तिरुनेलवेली, थूथुकुडी, कन्याकुमारी और तेनकासी जिलों में सभी स्कूलों, कॉलेजों, निजी संस्थानों, बैंकों और वित्तीय संस्थानों में छुट्टी की घोषणा की है।

जलभराव हो जाने से जिला कलेक्टर ने आज स्कूलों में छुट्टी की घोषणा की है

थूथुकुडी जिले में इतनी तेज बारिश हुई है कि कट्टाबोम्मन नगर का ज्यादातर हिस्सा जलमग्न हो गया है। बारिश का पानी लोगों के घरों में घुस गया। थूथुकुडी रेलवे स्टेशन पर भी जलभराव हो गया है। विरुधुनगर में कई हिस्सों में जलभराव हो जाने से जिला कलेक्टर ने आज स्कूलों में छुट्टी की घोषणा की है।

कन्याकुमारी समेत कई जिलों के तमाम इलाके जलमग्न हैं

इस बीच वेगई बांध के निचले हिस्से थेनी, डिंडीगुल, मदुरै, शिवगंगा और रामनाथपुरम सहित पांच जिलों में बाढ़ की चेतावनी जारी की गई है। बताया गया है कि आज सुबह आठ बजे वेगई बांध का जलस्तर 66.01 फीट (अधिकतम जलाशय स्तर 71 फीट) तक पहुंच गया । रविवार को तमिलनाडु के दक्षिणी जिलों में भारी बारिश हुई है। कन्याकुमारी समेत कई जिलों के तमाम इलाके जलमग्न हैं। इससे आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है।

तिरुनेलवेली में थमिराबरानी नदी उफान पर है

तिरुनेलवेली में थमिराबरानी नदी उफान पर है। मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने अधिकारियों को दक्षिणी तमिलनाडु में नदी जोड़ो परियोजना के तहत अतिरिक्त पानी को कन्नाडियन चैनल में छोड़ने का निर्देश दिया है। स्टालिन ने राहत कार्यों की निगरानी और संचालन के लिए मंत्रियों को बाढ़ प्रभावित जिलों में भेजा है। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र ने बुलेटिन में कहा है कि शनिवार से दक्षिणी तमिलनाडु के अधिकांश स्थानों पर बारिश हो रही है। बारिश से प्रभावित क्षेत्रो में कड़ी सर्तकता बरती जा रही है। मुख्यमंत्री ने इसके लिए पूरी टीम बनाकर लोगो की मदद के लिए अधिकारी नियुक्त किये हुए हैं। जिससे होने वाले नुकसान को रोका जाए और जनता को जान माल आदि किसी तरह की हानि न हो।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.