DMK नेता ए राजा ने दिया विवादित बयान, बोले- राम हमारे दुश्मन, नहीं है भरोसा रामायण पर; भाजपा ने दिया ये जवाब

DMK leader A. Raja: साउथ के मंत्रियों के सनातन धर्म को लेकर विवादित बयान देने का क्रम रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है। अब इसी क्रम में डीएमके नेता ए राजा का नाम भी जुड़ गया है।
DMK leader A. Raja
DMK leader A. Rajaraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। साउथ के मंत्रियों के सनातन धर्म को लेकर विवादित बयान देने का क्रम रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है। अब इसी क्रम में डीएमके नेता ए राजा का नाम भी जुड़ गया है। राजा ने अपने विवादित बयान में कहा है कि मुझे रामायण और भगवान राम पर भरोसा नहीं है। वह इतने पर ही नहीं रुके और बोले कि ‘अगर ये आपका जय श्री राम है, अगर ये आपकी भारत माता की जय है तो हम उस जय श्री राम और भारत माता की जय को कभी स्वीकार नहीं करेंगे, तमिलनाडु स्वीकार नहीं करेगा.’ ए राजा ने कहा कि ‘तुम जाकर कहो, हम राम के शत्रु हैं।'

डीएमके नेता ए राजा के बयान के बाद देश की राजनीति गरमा गयी है

डीएमके नेता ए राजा के बयान के बाद देश की राजनीति गरमा गयी है। वहीं भारतीय जनता पार्टी ने इंडिया गठबंधन पर आरोप लगाया है कि भारत की आस्था का अपमान करना, भारतीय संस्कृति और संस्कार की निंदा करना इस गठबंधन का राजनीतिक एजेंडा बन गया है। भाजपा ने कहा कि डीएमके के एक नेता कल सुप्रीम कोर्ट गए थे, कोर्ट ने इन पर क्या टिप्पणी की, देख लीजिए।

भाजपा ने ए राजा के उस विवादित बयान पर भी अपनी कड़ी आपत्ति जताई, जिस पर राजा ने कहा था कि भारत कभी देश नहीं था बल्कि एक सबकटीनेंट है। भाजपा ने ए राजा की सोच को माओवादी विचारधारा बताया। भाजपा ने कहा कि राम पर टिप्पणी करने वाले यह महाशय वही हैं जो 2जी घोटाले में मुख्य आरोपी थे। इस तरह की टिप्पणी पहले स्टालिन ने भी की थी।

भाजपा ने राहुल गांधी के महाकाल जाने को दिखावा मात्र बता डाला

भाजपा ने सोनिया गांधी, राहुल गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे से एक प्रश्न ही पूछ डाला और कहा कि ये बताएं कि क्या वे ए राजा के राम के दुश्मन वाले बयान को स्वीकार करते हैं या नहीं। भाजपा ने राहुल गांधी के महाकाल जाने को दिखावा मात्र बता डाला।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.