BJP ने तमिलनाडु में इस पार्टी से कर लिया गठबंधन, वाजपेयी सरकार में भी थे साथ, जानिए कौन है ये दल

Loksabha Election 2024: लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर भाजपा पूरी तरह अलर्ट है और इसमें किसी तरह की कोई ढिलाई नहीं छोड़ना चाहती है।
Anbumani Ramdas, Narendra Modi and Amit Shah
Anbumani Ramdas, Narendra Modi and Amit Shahraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर भाजपा पूरी तरह अलर्ट है और इसमें किसी तरह की कोई ढिलाई नहीं छोड़ना चाहती है। भाजपा अपने 400 पार के लक्ष्य को पूरा करने के लिए अलग अलग राज्यों में क्षेत्रीय दलों के साथ गठबंधन करने में लगी हुई है। भाजपा का तमिलनाडु में पट्टाली मक्कल काची (PMK) के साथ गठबंधन हो गया है। भाजपा की PMK के साथ तमिलनाडु में सीट बंटवारे की डील भी हो गई है। तमिलनाडु की 39 लोकसभा सीटों में से पट्टाली मक्कल काची (पीएमके) 10 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

भाजपा अध्यक्ष के. अन्नामलाई और PMK अध्यक्ष अंबुमणि ने समझौते पर हस्ताक्षर किये

तमिलनाडु में लोकसभा के चुनाव 19 अप्रैल को होने है, राज्य में चुनाव लड़ने के लिए भाजपा ने अंबुमणि रामदास के नेतृत्व वाली पट्टाली मक्कल काची (पीएमके) के साथ गठबंधन कर लिया है। इस गठबंधन के लिए भाजपा की तरफ से पार्टी के अध्यक्ष के. अन्नामलाई और PMK अध्यक्ष अंबुमणि रामदास ने समझौते पर हस्ताक्षर किये हैं।

अंबुमणि रामदास PMK पार्टी के अध्यक्ष हैं

पट्टाली मक्कल काची(PMK) की स्थापना डॉ एस. रामदास ने वर्ष 1989 में की थी। अब अंबुमणि रामदास पार्टी के अध्यक्ष हैं और वर्तमान में राज्यसभा सांसद हैं। अंबुमणि रामदास का भाजपा से नाता पुराना है, वह अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री भी रह चुके हैं। अंबुमणि रामदास धर्मपुरी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से सांसद भी रह चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का तमिलनाडु में 5 दौरे हो चुके हैं, वह किसी भी हाल में यहां से भारी मतों में जीतना चाहते हैं। हालांकि भाजपा का तमिलनाडु में किसी बड़े दल के साथ गठबंधन नहीं हो पाया है। भाजपा ने PMK का तमिलनाडु में प्रभाव को देखते हुए ही उनके साथ गठबंधन किया है।

पट्टाली मक्कल काची (पीएमके) एक वन्नियार समुदाय की प्रभुत्व वाली पार्टी है

पट्टाली मक्कल काची (पीएमके) एक वन्नियार समुदाय की प्रभुत्व वाली पार्टी है। इस पार्टी का तमिलनाडु के उत्तरी जिलों में अच्छा प्रभाव है। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में PMK को कोई जीत नहीं मिल पाई। लेकिन वे 5.42 प्रतिशत वोट हासिल करने में सफल रहे है। उन्होंने इस चुनाव में 7 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ा था। अब BJP और PMK के बीच गठबंधन हो गया है और सीट बंटवारे पर भी बात बन गयी है। इसका फायदा दोनों दलों को ही इस लोकसभा चुनाव 2024 में मिलने की संभावना है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.