women39s-patwari-fasted-on-women39s-day-made-39mehndi-grade-360039-with-hands-on-henna
women39s-patwari-fasted-on-women39s-day-made-39mehndi-grade-360039-with-hands-on-henna

महिला दिवस पर महिला पटवारियों ने रखा उपवास, हाथों पर मेहंदी से रचाया ‘ग्रेड पे 3600’

जयपुर, 08 मार्च (हि. स.)। ग्रेड पे 3600 सहित तीन सूत्रीय मांगों को लेकर राजधानी जयपुर के शहीद स्मारक पर चल रहे धरनास्थल पर सोमवार को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर महिला पटवारियों ने उपवास रखकर विरोध प्रकट किया। महिला पटवारियों ने कहा कि जब तक उन्हें ग्रेड पे 3600 नहीं मिलेगी, तब तक वे अपना धरना-प्रदर्शन समाप्त नहीं करेंगीं। शहीद स्मारक पर चल रहे धरने में सोमवार को उदयपुर और जयपुर संभाग के पटवारी शामिल हुए। दोनों संभाग की महिला पटवारियों ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर उपवास रखा। महिला पटवारियों ने अपने हाथों पर मेहंदी से ग्रेड पे 3600 लिखा और सरकार से ग्रेड पे 3600 देने की मांग की। प्रदेश संगठन मंत्री विमला मीणा ने बताया कि वेतन विसंगति को लेकर हम लगातार संघर्ष कर रहे हैं। सरकार महिलाओं को समान अधिकार देने की बात करती है, लेकिन ऐसा नहीं है। सरकार महिलाओं को पूरा मान-सम्मान देने की बात कर ढोंग कर रही है। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर निशुल्क रोडवेज बस की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही हैं। वास्तव में यदि सरकार महिलाओं को पूरा मान सम्मान देना चाहती है तो यहां शहीद स्मारक पर आए और पटवारियों की ग्रेड पे 3600 सहित अन्य मांगों को पूरा करे। उन्होंने बताया कि सरकार हमें मौखिक आश्वासन देना चाहती है और मौखिक आश्वासन तो सरकार बीते कई साल से दे रही है, लेकिन अब पटवारी आर-पार की लड़ाई के मूड में हैं और बिना लिखित आश्वासन के वे अपना आंदोलन समाप्त नहीं करेंगे। प्रदेश के पटवारी ग्रेड पे 3600 के अलावा 9,18,27 के स्थान पर 7,14,21,28 और 32 साल की सेवा अवधि पूरी होने के बाद पदोन्नति व वेतनमान और पूर्व में हुए लिखित समझौतों को लागू करने की मांग कर रहे हैं। पटवारी अपनी मांगों को लेकर विशाल पैदल मार्च निकाल चुके हैं और पेन डाउन हड़ताल भी कर चुके हैं। इसके बावजूद भी सरकार उनकी कोई सुनवाई नहीं कर रही है। इसे लेकर पटवारियों में सरकार और राजस्व मंत्री के खिलाफ आक्रोश है। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर

Related Stories

No stories found.