women-girls-girls-are-unsafe-everywhere-in-the-state---devnani
women-girls-girls-are-unsafe-everywhere-in-the-state---devnani

प्रदेश में महिलाएं, युवतियां, बालिकाएं हर जगह असुरक्षित -देवनानी

अजमेर, 10 जून(हि.सं)। पूर्व शिक्षा मंत्री व विधायक अजमेर उत्तर वासुदेव देवनानी ने कहा है कि कांग्रेस के शासनकाल में कानून-व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। बलात्कार की घटनाओं से स्कूल, अस्पताल, हाईवे, पुलिस थाने सहित ऐसी कोई भी जगह अछूते नहीं रही हैं, जहां बलात्कार की घटनाएं नहीं हुई हैं। आए दिन बलात्कार की घटनाओं से यह साबित हो गया है कि इस राज में महिलाएं, बहन-बेटियां कहीं भी सुरक्षित नहीं हैं। गुरुवार को यहां मीडिया को दिए बयान में देवनानी ने कहा कि जयपुर में हाइवे और अस्पताल में पिछले दिनों बलात्कार की घटनाएं हो चुकी हैं। अभी तो इन घटनाओं को हुए कुछ दिन भी नहीं बीते हैं, अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह जिले जोधपुर में शेरगढ़ उपखंड के अधीन पंचायत समिति सेखाला के सरकारी स्कूल में शिक्षक द्वारा छठी कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा के साथ दुष्कर्म करने का शर्मनाक मामला सामने आया है। उन्होंने कहा कि जयपुर और जोधपुर की घटनाओं से प्रदेशभर में महिलाओं, युवतियों और बालिकाओं में असुरक्षा की भावना घर करती जा रही है। अनेक कामकाजी महिलाएं देर शाम या रात को आफिस से घर लौटती हैं, तो वे भी खुद को सुरक्षित नहीं पाती हैं। रास्ते में अपराधी किस्म के लोग अकेली महिलाओं को देखकर उनका पीछा करते हैं। इसी प्रकार युवतियां दिन में भी बेखौफ कहीं आ-जा नहीं सकती हैं। ऐसे में समझ में नहीं आता है कि जब महिलाएं, युवतियां और बालिकाएं सुरक्षित नहीं रहेंगी, तो कैसे प्रदेश और समाज आगे बढ़ सकता है। देवनानी ने कहा, इस तरह की घटनाओं से यह जाहिर होता है कि राज्य में अपराधियों को किसी तरह का खौफ नहीं है और उनके हौंसले बुलंद हैं। पुलिस प्रशासन पूरे राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने में पूरी तरह विफल साबित हुआ है। यही नहीं आए दिन दिनदहाड़े चोरी, लूटपाट, मारपीट, चेन स्नेचिंग, हत्या आदि की घटनाएं हो रही हैं। उन्होंने कहा कि गृह विभाग खुद मुख्यमंत्री गहलोत संभालते हैं, लेकिन वह कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस विभाग की नकेल नहीं कस पा रहे हैं। उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री को कानून-व्यवस्था में सुधार कराने की तरफ भी ध्यान देना चाहिए, ताकि बहन-बेटियां सुरक्षित रह सकें। हिन्दुस्थान समाचार/संतोष/संदीप

Related Stories

No stories found.