Manoj Jarange
Manoj Jarange Raftaar.in

Maratha Reservation: जालना में मनोज जारांगे का मराठा आरक्षण को लेकर अनिश्चितकालीन अनशन शुरू

Mumbai: मराठा समाज के नेता मनोज जारांगे पाटिल ने शनिवार से अनशन शुरु कर दिया है। इससे पहले भी मराठा नेता मनोज जारांगे ने 27 फरवरी को मुख्यमंत्री के हाथों जूस पीकर भूख हड़ताल खत्म किया था।

मुंबई, हि.स.। महाराष्ट्र के जालना जिले के ग्राम अंतरवाली सराटी में मराठा आरक्षण के लिए मराठा समाज के नेता मनोज जारांगे पाटिल ने शनिवार से अनिश्चितकालीन अनशन शुरू कर दिया है। यह तीसरी बार है जब मनोज जारांगे आरक्षण के लिए अनशन कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि इस बार आरक्षण मिलने तक उनका अनशन जारी रहेगा।

सरकार ने अबतक पूरी नहीं की जारांगे की मांग

मनोज जारांगे ने पत्रकारों को बताया कि उन्हें राज्य सरकार ने मराठा समाज को कुन्बी जाति का प्रमाण पत्र दिए जाने और मराठा आंदोलन के दौरान मराठा युवकों पर दर्ज मामले वापस लिए जाने का आश्वासन दिया गया था। इसी वजह से उन्होंने दो बार पहले सरकार के आश्वासन के बाद अपना अनशन खत्म कर दिया था लेकिन सरकार ने अपने आश्वासन को पूरा करने के लिए अभी तक कोई प्रयास नहीं किया है। इसी वजह से वे फिर से अनशन करने के लिए बाध्य हुए हैं।

मांगें पूरी न होने तक चलेगा अनशन

सरकार को जल्द से विधानसभा का विशेष अधिवेशन बुलाकर मराठा समाज के लोगों को जाति संबंध और वंशावली के आधार पर कुन्बी जाति का प्रमाणपत्र दिए जाने के लिए कानून पारित करना चाहिए। जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं हो जाती तब तक अनशन जारी रहेगा।

CM एकनाथ शिंदे ने जूस पिलाकर जारांगे की भूख हड़ताल की थी खत्म

इससे पहले भी मराठा नेता मनोज जारांगे ने 27 फरवरी को मुख्यमंत्री के हाथों जूस पीकर भूख हड़ताल खत्म करने का ऐलान किया। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने इस मौके पर कहा कि जब तक मराठा समाज को अलग से आरक्षण नहीं मिल जाता, तब तक मराठा समाज को OBC को दी जाने वाली सभी सुविधाएं दी जाएंगी। साथ ही राज्य सरकार ने मनोज जारांगे पाटिल की सभी मांगें मान लीं हैं। मनोज जारांगे मराठा समाज के कुन्बी जाति को आरक्षण देने की मांग को लेकर सरकार से हमेशा मांग करते हुए आए हैं।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.