NCRB Report 2023: NCRB की रिपोर्ट में खुली कानून व्यवस्था की पोल, दिल्ली के बाद सबसे ज्यादा अपराध मुंबई में

NCRB Report 2023: मायानगरी के नाम से मशहूर मुंबई भी अपराध के मामले में पीछे नहीं रही। अक्सर मुंबई को देश का सुरक्षित शहर माना जाता है। NCRB की ताजा रिपोर्ट मुंबई की कुछ अलग ही कहानी बता रहीं है।
NCRB Report 2023
NCRB Report 2023raftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। मायानगरी के नाम से मशहूर मुंबई भी अपराध के मामले में पीछे नहीं रही। अक्सर मुंबई को देश का सुरक्षित शहर माना जाता है। लेकिन राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) की ताजा रिपोर्ट मुंबई की कुछ अलग ही कहानी बताती है। NCRB की रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई अपराध के दर्ज मामलो में उत्तर प्रदेश के बाद दूसरे नंबर पर है। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) की ताज़ा रिपोर्ट के अनुसार, 2022 में देश में 58 लाख 24 हजार 946 अपराध दर्ज हुए, जिनमे 35 लाख 61 हजार 379 अपराध आईपीसी के तहत और 22 लाख 63 हजार 364 अपराध राज्य के विशेष कानूनों के तहत शामिल हैं। 2021 के आकड़ो की बात करें तो 2022 में 4 फीसदी अपराध की बढ़त हुई है। अपराध के मामले में पूरे देश में टॉप तीन पर उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश है।

पॉक्सो के सबसे अधिक मामले महाराष्ट्र में हुए

NCRB की ताज़ा रिपोर्ट के अनुसार, बाल शोषण (पॉक्सो) के सर्वाधिक मामले महाराष्ट्र में ही दर्ज हुए हैं, जिसकी संख्या 20 हजार 762 है। महाराष्ट्र बाल शोषण के मामले में पहले स्थान पर है। इसके बाद मध्य प्रदेश में 20 हजार 415 अपराध मामले, उत्तर प्रदेश में 18682 मामले, राजस्थान में 9370 मामले और पश्चिम बंगाल में 8950 मामले दर्ज है। नाईट लाइफ के लिए मशहूर और देश के सुरक्षित शहर का तबका लिए मुंबई बाल शोषण के मामले में दूसरे नंबर पर है, यहां 3 हजार 178 मामले दर्ज हुए हैं। वहीं दिल्ली में 7 हजार 400 बाल शोसन के मामले दर्ज हुए है।

महाराष्ट्र दूसरे स्थान पर

आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत 4 लाख 1 हजार 787 केस उत्तर प्रदेश में दर्ज, महाराष्ट्र में 3 लाख 74 हजार 38 केस दर्ज, मध्य प्रदेश में 298578 केस दर्ज, राजस्थान में 236090 केस दर्ज और केरल में 235858 केस दर्ज हुए।

अपराध के मामले में मुंबई दूसरे नंबर पर

देश की राजधानी दिल्ली में 2 लाख 98 हजार 988 अपराध के मामले दर्ज, मुंबई में 69 हजार 289 अपराध के मामले दर्ज, इसी तरह रिपोर्ट के अनुसार बेंगलुरु तीसरे नंबर पर, जयपुर चौथे नंबर पर और अहमदाबाद पांचवें नंबर पर रहा।

हत्या के मामलों में यूपी टॉप पर और महाराष्ट्र तीसरा नंबर पर

उत्तर प्रदेश में हत्या के 3491 मामले दर्ज हुए, बिहार में 2930 मामले दर्ज हुए, महाराष्ट्र में 2295 मामले दर्ज हुए, मध्य प्रदेश में 1978 मामले दर्ज हुए और राजस्थान में 1834 मामले दर्ज हुए।

शहरों में सबसे ज्यादा हत्याएं दिल्ली में, मुंबई तीसरे स्थान पर

शहरों में हत्या की 501 घटनाओं के साथ दिल्ली पहले स्थान पर, हत्या के 173 मामलों के साथ बेंगलुरु दूसरे नंबर पर, मुंबई में हत्या के 135 केस दर्ज हुए, लखनऊ में 131 केस दर्ज हुए और पटना में 107 मामले दर्ज हुए।

अपहरण में महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर

उत्तर प्रदेश में अपहरण के 16 हजार 163 अपराध दर्ज, महाराष्ट्र में 12 हजार 260 और बिहार में 11 हजार 822 अपराध दर्ज, इसी प्रकार मध्य प्रदेश चौथे नंबर पर, राजस्थान पांचवें नंबर पर है।

शहरों में अपहरण के मामले में दिल्ली पहले और मुंबई दूसरे नंबर पर है

मुंबई में 1754 मामले दर्ज

बेंगलुरु में 946 मामले दर्ज

जयपुर में 787 मामले दर्ज

पटना में 664 मामले दर्ज

महिलाओं के विरुद्ध अपराध में महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर

उत्तर प्रदेश में 65,743 मामले महिलाओ के विरुद्ध अपराध के दर्ज

महाराष्ट्र में 45,331 मामले महिलाओ के विरुद्ध अपराध के दर्ज

राजस्थान 45,038 मामले महिलाओ के विरुद्ध अपराध के दर्ज

पश्चिम बंगाल 34,738 मामले महिलाओ के विरुद्ध अपराध के दर्ज

मध्य प्रदेश 32, 765 मामले महिलाओ के विरुद्ध अपराध के दर्ज

शहरों में महिलाओं के खिलाफ हिंसा के मामले में मुंबई दूसरे नंबर पर

दिल्ली में 14,158 मामले महिलाओ के विरुद्ध अपराध के दर्ज

मुंबई में 6,176 मामले महिलाओ के विरुद्ध अपराध के दर्ज

बेंगलुरु में 3,924 मामले महिलाओ के विरुद्ध अपराध के दर्ज

जयपुर में 3,479 मामले महिलाओ के विरुद्ध अपराध के दर्ज

हैदराबाद में 3,145 मामले महिलाओ के विरुद्ध अपराध के दर्ज

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.