NCP Crisis: महाराष्ट्र NCP में शरद पवार गुट को मिली बड़ी कानूनी राहत, अजित गुट के साथ हो गया खेला

Maharashtra Politics: महाराष्ट्र में राष्ट्रवादी कांग्रेस (एनसीपी) के अजित पवार गुट का एक्स (पूर्व में ट्विटर) अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है। इस पर अजित ग्रुप का कहना है कि शरद गुट ने की शिकायत।
Sharad Pawar & ajit pawar
Sharad Pawar & ajit pawar

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। महाराष्ट्र की राजनीति में पार्टीयों के बीच होने वाला गतिरोध खत्म होने का नाम नहीं ले रहें है। इनके बीच कभी प्यार तो कभी शह-मात का खेल देखने को मिलता रहता है। ऐसा कुछ महाराष्ट्र में राष्ट्रवादी कांग्रेस (NCP) में विभाजन के बाद बने दोनो गुटो के बीच देखा जा रहा है। महाराष्ट्र में इस समय राष्ट्रवादी कांग्रेस (NCP) में दो गुट बनने के बाद शरद पवार और अजित पवार के बीच पार्टी के दावे को लेकर रस्साकसी जारी है।

अजित पवार गुट का एक्स अकाउंट सस्पेंड

शरद पवार और अजित पवार के बीच पार्टी के दावे को लेकर चल रहें विवाद में एक नया मोड समने आया है। इस विवाद में अजित पवार गुट का एक्स (पूर्व में ट्विटर) अकाउंट सस्पेंड करने की बात कहीं जा रही है। इस पर अजित ग्रुप का कहना है कि एक ही नाम पर अकाउंट होने की शिकायत शरद पवार गुट ने की थी, जिसके बाद अकाउंट सस्पेंड हुआ है।

क्या है मामला?

दरअसल, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी अजित पवार ग्रुप का कहना है कि शरद पवार गुट के शिकायत के बाद @NCPSpeaks1 के नाम से बने इस अकाउंट को सस्पेंडेड कर दिया गया है। इस अकाउंट पर लिखा हुआ है, "अकाउंट सस्पेंडेड" है। एक्स ने खाते को सस्पेंड कर नियमों के उल्लंघन की बात कही है। इस पूरे घटनाक्रम के बाद ऐसा कहा जा रहा है कि शरद पवार ने अजित पवार गुट के खिलाफ कानूनी लड़ाई तेज कर दी है। इससे पहले पवार गुट ने चुनाव आयोग के पास 500 पन्नों का जवाब दाखिल किया है। जिसमें कहा गया है कि अजित पवार समेत 39 विधायक जो उनके गुट में शामिल हैं उन्हें अपात्र घोषित किया जाए।

शरद पवार के नेतृत्व वाली एनसीपी ने विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर के सामने जो अयोग्यता याचिकाएं दायर की हैं उसके मुताबिक, पवार गुट के पास सिर्फ 11 विधायकों का समर्थन है। वहीं, अजित पवार गुट को 41 विधायकों का समर्थन मिला हुआ है। अजित पवार गुट ने एनसीपी के नाम और चुनाव चिह्न पर दावा करते हुए चुनाव आयोग का दरवाजा भी खटखटाया है। इसे लेकर चुनाव आयोग ने शरद पवार गुट से जवाब भी मांगा।

40 विधायकों के साथ अजित पवार ने कि थी बगावत

आपको बता दें बीते 2 जुलाई को महाराष्ट्र में अजित पवार के नेतृत्व में एनसीपी में बड़ी बगावत हुई थी। इस बगवात के बाद पार्टी का एक धड़ा महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे की अगुवाई वाली सरकार में शामिल हो गया था। अजित पवार समेत पार्टी के 9 विधायक शिंदे कैबिनेट का हिस्सा बन गए थे। और खुद अजित पवार महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री के रूप में सपथ ले ली थी। अपने चाचा से बगावत करने के बाद उन्होंने दावा किया था एनसीपी के 40 विधायकों का उनके पास समर्थन है। पार्टी को तोड़ने के बाद शरद पवार और सुप्रिया सुले ने कई बार खुले तौर पर अजित पवार पर तंज कसा है। इसके साथ ही NCP में टुट के बाद चार बार शरद पवार और अजित पवार की मुलाकात भी हो चुकी है।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें :- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.