Mumbai: तेज रफ्तार आए तूफान में बिलबोर्ड गिरने से 14 लोगों की मौत, 40 से ज्यादा लोग घायल

फ्यूल स्टेशन के सामने स्थित 100 फुट का बिलबोर्ड तेज तूफान के कारण नीचे गिर गया और कई कार क्षतिग्रस्त हो गईं।
Mumbai Strom
Mumbai Stromraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। मुबंई में शाम को आए तूफान में बड़े बिलबोर्ड ने नीचे दबने ने 14 लोगों की मौत गई। साथ ही हादसे में 70 से ज्यादा लोग घायल हो गए। मुंबई के घाटकोपर इलाके में एक फ्यूल स्टेशन के सामने स्थित 100 फुट का बिलबोर्ड तेज तूफान के कारण नष्ट हो गया। तूफान की तेज हवाओं के कारण वह सीधे नीचे फ्यूल स्टेशन पर गिर गया। हादसे में इलाके के सीसीटीवी फुटेज में देखा गया कि बिलबोर्ड का लोहे का डांचा कई कारो की छतों को चीरता हुआ जमीन पर गिरा। जिसके बाद बचाव प्रक्रिया को फौरान एक्शन में लाया गया। साथ ही एनसीआरएफ की दो टीम को मुबंई फायर बिग्रेड समेत अन्य एजंसियों के साथ रवाना किया गया।

बिलबोर्ड कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज

यह बिलबोर्ड एगो मीडिया द्वारा एक प्लॉट पर लगाया गया था, जिसको महाराष्ट्र सरकार के पुलिस हाउसिंग डिवीजन द्वारा पुलिस वेलफेयर कॉरपोरेशन को लीज पर दिया गया है। परिसर में एगो मीडिया के चार बिलबोर्ड लगे हैं, जिनमें से एक सोमवार शाम को गिर गया। मुंबई पुलिस ने एगो मीडिया के मालिक समेत इस घटना में शामिल अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

BMC ने भी दी हुई थी NOC

हालांकि एगो मीडिया को असिसटेंट कमिश्नर ऑफ पुलिस (रेलवे) द्वारा चारों बिलबो्र्ड को लगाने की अनुमति मिली हुई थी। साथ ही बीएमसी ने नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (NOC) भी मिली हुई थी। एनओसी मिलने के बाद ही चारों बिलबोर्ड को एगो मीडिया ने लगाया था। हादसे का नतीजा यह हुआ कि बीएमसी ने रेलवे पुलिस के एसीपी और रेलवे कमिश्नर ने दी गई सभी अनुमति को रद्द करने के लिए नोटिस जारी किया है।

क्या है सोमवार शाम मुबंई में

मुंबई में 13 मई 2024 को धूल भरी तेज आंधी ने पूरे शहर को हिला के रख दिया था। इससे वातावरण ऐसा हो गया कि पास की चीज भी नहीं दिखाई दे रही थी। जिससे दृश्यता काफी कम होने के कारण मुंबई हवाई अड्डे को भी बंद करना पड़ा। दोपहर तीन बजे के आसपास धूल भरी आंधी ने पूरी मुंबई को हिलाकर रख दिया। इसके कारण दृश्यता इतनी कम हो गयी कि अपनी चमक के लिए पहचाने जाने वाली मुंबई में अंधेरा छा गया। जिसका सीधा असर यातायात पर भी पड़ा।

छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर विमानों के संचालन पर असर पड़ा

धूल भरी तेज हवाओं के कारण मुंबई का छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर विमानों के संचालन पर इसका असर पड़ा। इसके बाद आसमान में काले बादल छा गए और बारिश होना शुरू हो गई। जिससे मुंबई के तापमान में काफी गिरावट आई और धीरे धीरे दृश्यता में भी सुधार हुआ।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.