MP News: पूर्व सीएम कमलनाथ की भाजपा में एंट्री पर कैलाश विजयवर्गीय ने कहा- कोई बासी फल थोड़ी खरीदेगा

MP News: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ की भाजपा में शामिल होने कि चर्चा जोरो पर है। हालांकि उन्होंने इन चर्चाओं को अफवाह महज बताया था।
Kailash Vijayvargiya and Kamalnath
Kailash Vijayvargiya and Kamalnathraftaar.in

मध्य प्रदेश, रफ्तार डेस्क। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ की भाजपा में शामिल होने कि चर्चा जोरो पर है। हालांकि उन्होंने इन चर्चाओं को अफवाह महज बताया था। लेकिन उनके एक बयान ने राजनीतिक गलियारों में हलचल पैदा कर दी थी, जिसमे उन्होंने कहा था कि राजनीतिक नेता स्वतंत्र है और वह किसी भी दल के साथ जुड़े रहने के लिए बाध्य नहीं है। कोई भी नेता किसी भी दल में शामिल हो सकता है।

कमलनाथ के लिए भाजपा में दरवाजे बंद हैं

भाजपा के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के लिए बड़ी बात कह डाली है, उन्होंने कमलनाथ को बासी फल तक कह दिया और कहा कोई बासी फल थोड़े खरीदेगा। कैलाश विजयवर्गीय ने कमलनाथ के भाजपा में शामिल होने की चर्चाओं को लेकर बड़ा बयान दे डाला, उन्होंने कहा कि कमलनाथ के लिए भाजपा में दरवाजे बंद हैं।

हो सकता है कमलनाथ ने ये बयान राजनीतिक आजादी को लेकर कहा हो

दरअसल कमलनाथ ने अपना बयान कांग्रेस के नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम को लेकर कहा था, जिसमे उनसे आचार्य प्रमोद कृष्णम के भाजपा में शामिल होने के सवाल पूछे गए थे। कमलनाथ ने इस सन्दर्भ में कहा था कि राजनीतिक स्वतंत्र है और वह किसी भी दल के साथ जुड़े रहने के लिए बाध्य नहीं है। कोई भी नेता किसी भी दल में शामिल हो सकता है। हो सकता है कमलनाथ ने ये बयान राजनीतिक आजादी को लेकर कहा हो। लेकिन उन्होंने खुद के भाजपा में शामिल होने की बात को अफवाह महज बताया और कहा कि मै इस बारे में क्या कह सकता हूँ।

उम्मीदवारों का चयन उनकी जीतने की क्षमता के अनुसार ही किये जायेंगे

कमलनाथ से आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर भी सवाल किया गया, जिसमे उनसे पूछा गया कि आप यह चुनाव लड़ेंगे। जिसका कमलनाथ ने बड़े ही खूबी के साथ जवाब देते हुए कहा कि इस पर निर्णय पार्टी द्वारा ही लिए जायेंगे और उम्मीदवारों का चयन उनकी जीतने की क्षमता के अनुसार ही किये जायेंगे।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.