Madhya Pradesh: IMD ने इन शहरों में वेस्टर्न डिस्टरबेंस के कारण अगले 7 दिन खराब मौसम का अलर्ट किया जारी

Bhopal News: प्रदेश के अधिकांश इलाकों में कोहरा छाया हुआ है। शनिवार सुबह भी प्रदेश के अधिकांश शहर कोहरे के आगोश में रहे। इधर, मौसम विभाग ने ओले और बारिश की आशंका भी जताई है।
Western Disturbance
Western DisturbanceRaftaar.in

भोपाल, हि.स.। प्रदेश के अधिकांश इलाकों में कोहरा छाया हुआ है। शनिवार सुबह भी प्रदेश के अधिकांश शहर कोहरे के आगोश में रहे। इधर मौसम विभाग ने ओले और बारिश की आशंका भी जताई है। विभाग के अनुसार कोहरा, ओले और बारिश का यह दौर लगभग 1 सप्ताह चलेगा। जिसके बाद तेज सर्दी का दौर शुरू होगा।

वेस्टर्न डिस्टरबेंस के एक्टिव होने से बदलेगा मौसम

मौसम विभाग के अनुसार मध्य प्रदेश में वेस्टर्न डिस्टरबेंस के एक्टिव होने से अगले 7 दिन मौसम बदला रहेगा। शनिवार सुबह प्रदेश के ज्यादातर शहरों में कोहरा छाया रहा। दतिया और सतना में विजिबिलिटी 50 मीटर से कम रही। खजुराहो, दमोह, टीकमगढ़ में विजिबिलिटी 50 से 200 मीटर रही। रायसेन में इस सीजन में दूसरी बार घना कोहरा छाया। शुक्रवार रात प्रदेश में सबसे ठंडे ग्वालियर और दतिया रहे।

मौसम विभाग के अनुसार इतना दर्ज किया तापमान

मौसम विभाग के मुताबिक अगले 7 दिनों में प्रदेश के ग्वालियर, चंबल, उज्जैन, भोपाल, सागर और रीवा संभाग में हल्की बारिश के साथ ओले गिर सकते हैं तो इंदौर, नर्मदापुरम, जबलपुर, शहडोल में बूंदाबांदी हो सकती है। मावठा-बादल के बाद तेज ठंड शुरू होगी। इससे पहले शुक्रवार को प्रदेश के कई जिलों में ठंडक रही। ग्वालियर और खजुराहो सबसे ठंडे रहे। यहां अधिकतम तापमान 17.4 से 18.2 डिग्री सेल्सियस तक रहा। प्रदेश में रात का तापमान सबसे कम दतिया में 7 डिग्री दर्ज किया गया। नौगांव में 7.5 डिग्री, खजुराहो में 8 डिग्री और पचमढ़ी में 8.6 डिग्री दर्ज किया गया।

इन शहरों में जताई जा रही आशंका

मौसम विभाग ने 31 दिसम्बर से 4 जनवरी के बीच ग्वालियर, चंबल, उज्जैन, भोपाल, सागर और रीवा संभाग में ओलावृष्टि और बारिश की संभावना जताई है। वहीं इंदौर, नर्मदापुरम, जबलपुर, शहडोल में बूंदाबांदी हो सकती है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.