राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा में लाल कृष्ण आडवाणी नहीं हो रहे शामिल, ये है कारण

राम मंदिर में रामलला की होने वाली प्रतिष्ठा में भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी अयोध्या नहीं जाएंगे। 96 वर्षीय आडवाणी ने खराब मौसम की वजह से उन्होंने ना जाने का फैसला लिया है।
Lal krashn aadwani not attend pran pratishtha program
Lal krashn aadwani not attend pran pratishtha program Social media

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। अयोध्या के राम मंदिर में आज होने वाली प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम में जहां बीजेपी और RSS के तमाम कार्यकर्ता इस कार्यक्रम में शामिल होंगे तो वहीं बीजेपी के पूर्व वरिष्ठ नेता और पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के शुभ अवसर पर शामिल नहीं हो पाएंगे। उन्होंने ठंड और खराब मौसम होने की वजह से कार्यक्रम को रद्द कर दिया है। आपको बता दें लाल कृष्ण आडवाणी 96 वर्ष के हैं। दरअसल आडवाणी ने सेहत को मद्देनजर रखते हुए उन्होंने कार्यक्रम में शामिल न होने का फैसला लिया है।

कार्यक्रम में शामिल न होने पर आडवाणी ने क्या कहा

यह बात सभी जानते है कि राम मंदिर आंदोलन के लिए रथयात्रा शुरू करने वाले पहले व्यक्ति लाल कृष्ण आडवाणी ही थे। राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा जैसे पावनपर्व में शामिल न होने पर लालकृष्ण आडवाणी ने अपनी बात रखते हुए कहा कि पहली बात इतने वर्षों के बाद भारत के स्व के प्रतीक का पुनर्नीनिर्माण हमने किया। वो हमारे पुरुषार्थ के आधार पर किया है। दूसरी बात यह है कि जो अपनी एक दिशा होनी चाहिए। उसको पकड़ने का प्रयास भी अनेक दशकों से हम लोग कर रहे थे। वह हमें अब मिल गई है और स्थापित भी हो गई है। हम राम मंदिर के निर्माण से खुश हैं। हमारा सपना पूरा हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सपने को साकार किया। हम उनका आभार जताते हैं। कार्यक्रम सफल हो हम इसकी कामना करते हैं।

आडवाणी को मिला था न्यौता

विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने बताया था कि लालकृष्ण आडवाणी को 22 जनवरी को अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह का निमंत्रण दिया गया था। आयोजकों का कहना था कि आडवाणी को अयोध्या में समारोह के दौरान जरूर सभी जरूरी मेडिकल सुविधा मुहैया कराई जाएंगी। उन्हे कोई दिक्कत नहीं होगी। आपको बता दें कि आरएसएस के पदाधिकारी कृष्ण गोपाल , रामलाल भी आडवाणी के घर पहुंचकर समारोह का सम्मानपूर्वक न्योता दिया था। और कहा था अगर आप शामिल होंगे तो सौभाग्य की बात होगी।

Related Stories

No stories found.