cp-singh-should-be-suspended-for-a-week-hemant-soren
cp-singh-should-be-suspended-for-a-week-hemant-soren

सीपी सिंह को एक हफ्ते के लिए निलंबित कर देना चाहिये: हेमंत सोरेन

सदन में 02 मार्च को विधायक के एक अधिसूचना फाड़ देने पर मुख्यमंत्री ने जताई नाराजगी रांची, 19 मार्च (हि.स.)। झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के 14वें दिन शुक्रवार को चर्चा के बीच सत्तापक्ष और विपक्ष के विधायकों में जमकर बहस हुई। इस बीच मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि मेरे हिसाब से भाजपा विधायक सीपी सिंह को एक सप्ताह के लिये निलंबित कर देना चाहिये। वे सदन में भाजपा विधायक सीपी सिंह ने राज्य में श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय संबंधी अधिसूचना फाड़ देने से नाराजगी जता रहे थे। झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दौरान शुक्रवार को सदन में मंत्रिमंडल सचिवालय और गृह एवं कारा विभाग के अनुदान मांग पर चर्चा चल रही थी। अनुदान मांग पर पक्ष और विपक्ष की चर्चा के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सरकार की तरफ से जवाब दे रहे थे। सदन में 02 मार्च को रांची से भाजपा के विधायक सीपी सिंह ने श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय संबंधी अधिसूचना की प्रति फाड़ दी थी। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि सीपी सिंह सबसे बुजुर्ग सदस्यों में से हैं। इस सदन में उन्होंने जिस तरीके से श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय संबंधी अधिसूचना की प्रति फाड़ी है, उन्हें एक सप्ताह के लिए निलंबित करना चाहिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी सीपी सिंह सदन में नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सीपी सिंह ने नगर विकास मंत्री रहते हुए मोरहाबादी मैदान को बर्बाद कर दिया। टाइम स्कवायर बनाने के नाम पर करोड़ों रुपये बर्बाद किए गये। इसी शहर में 160 गाड़ियों की पार्किंग के लिए 40 करोड़ रुपये बर्बाद किये। रामायण और महाभारत के दौर में भी आदिवासियों को सम्मान नहीं मिला विधानसभा में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि रामायण और महाभारत के दौर में भी आदिवासियों को सम्मान नहीं मिला था। उस दौर में भी आदिवासी हाशिये पर थे। आदिवासी एकलव्य के वंशज हैं। वह मंत्रिमंडल सचिवालय, गृह एवं कारा के अनुदान मांग पर चर्चा के बाद जवाब दे रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग आदिवासी को हिन्दू बता रहे हैं, वे समाज शास्त्र का अध्ययन कर लें। अगर प्रकृति पूजक के तौर पर हमारी पहचान नहीं होती तो यहां जंगल भी नहीं होता। सोरेन ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ओर इशारा करते हुए कहा कि इनके एक नेता हैं, जिन्होंने आदिवासियों को हिन्दू बता दिया। बाबूलाल मरांडी का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि उनका ही एक बयान सोशल मीडिया पर घूम रहा है। वह आदिवासियों को सरना धर्म कोड देने की वकालत कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे लगा कि उन्होंने फिर से पलटी मार दिया। पिछली सरकार ने राज्य में खुलेआम लूट मचाई: हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि रोजगार और विकास का सवाल आज जनता का सवाल है। बजट सत्र में पक्ष और विपक्ष ने सदन के अंदर जनता के सवालों को उठाने का काम किया है। सरकार इन सवालों का समाधान ढूंढेगी। उन्होंने कहा कि यह सभी सवाल आज के नहीं वर्षों के सवाल हैं। पिछली डबल इंजन की सरकार भी इन सवालों के समाधान नहीं ढूंढ सकी। मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री का वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वो बोल रहे थे कि 35 मुझे दो और 15 उसको दे दो। सोरेन ने कहा कि पिछली सरकार ने राज्य में खुलेआम लूट मचाई। सोरेन ने इशारों-इशारों में दवा घोटाले के आरोपित भाजपा विधायक भानुप्रताप शाही पर तंज कसा। सभी युवाओं को नहीं दी जा सकती सरकारी नौकरी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विधानसभा में कहा है कि सभी युवाओं को सरकारी नौकरी नहीं दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि सभी को सरकारी नौकरी देने की जगह युवाओं को स्वाबलंबी बनाएंगे। इसके लिए युवाओं को ऋण उपलब्ध कराएंगे। सरकार 50 हजार रुपये से लेकर 25 लाख रुपये तक का ऋण देगी। हिन्दुस्थान समाचार/ विकास

Related Stories

No stories found.